राजीव गांधी किसान न्याय योजना: छत्तीसगढ़ के किसानों को सीएम भूपेश की सौगात, बटन दबाकर खातों में पहुंची 72 करोड़ 62 लाख रुपए की प्रथम किश्त

राजीव गांधी किसान न्याय योजना के अंतर्गत शनिवार को छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले के किसानों के खाते में प्रथम किश्त के रूप में 72 करोड़ 62 लाख रुपए की राशि जमा की गई।

राजीव गांधी किसान न्याय योजना: छत्तीसगढ़ के किसानों को सीएम भूपेश की सौगात, बटन दबाकर खातों में पहुंची 72 करोड़ 62 लाख रुपए की प्रथम किश्त
x

वीरेंद्र गहवई, बिलासपुर: राजीव गांधी किसान न्याय योजना के अंतर्गत शनिवार को छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले के किसानों के खाते में प्रथम किश्त के रूप में 72 करोड़ 62 लाख रुपए की राशि जमा की गई। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल राजधानी रायपुर से बटन दबाकर किसानों के खातों में यह राशि जमा की। योजना के अंतर्गत जिला स्तरीय समारोह प्रार्थना सभा भवन में आयोजित किया गया। 


समारोह के मुख्य अतिथि छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी बैंक के अध्यक्ष बैजनाथ चंद्राकर रहे। इस दौरान उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा राजीव गांधी किसान न्याय योजना के अंतर्गत प्रति एकड़ 9 हजार रुपए के हिसाब से प्रोत्साहन राशि दी जाती है। जिले में खरीफ विपणन वर्ष 2021-22 में 4 लाख 84 हजार मीट्रिक टन धान की खरीदी की गई थी। इस पर 290 करोड़ रुपए की राशि प्रोत्साहन के रूप में किसानों को दी गई है। 


पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की शहादत दिवस के अवसर पर 72 करोड़ से ज्यादा की राशि प्रथम किश्त के रूप में किसानों को दी गई है। धान के अलावा अन्य फसल उगाने वाले 3 हजार 457 किसानों को 1 करोड़ 86 लाख रुपए की प्रथम किश्त की सहायता राशि भी मुख्यमंत्री किसानों के खातों में अंतरित की है। राज्य सरकार द्वारा वर्ष 2018 में किए गए ऋण माफी योजना से 66 हजार से ज्यादा किसानों के लगभग 211 करोड़ रुपए की अल्पकालीन कृषि ऋण माफ कर किसानों में उत्साह का संचार किया है।


इधर बैठक व्यवस्था में प्रोटोकॉल का पालन न होने का आरोप लगाते हुए बिलासपुर विधायक शैलेष पांडेय बीच में ही कार्यक्रम छोड़कर चले गए। कार्यक्रम के बीच उन्होंने अपेक्स बैंक के अध्यक्ष से बात की, और फिर चले गए। दरअसल, प्रार्थना सभा भवन में जिला प्रशासन ने जो व्यवस्था की थी, उसके मुताबिक बोनस वितरण कार्यक्रम के मुख्य अतिथि अपेक्स बैंक के अध्यक्ष बैजनाथ चंद्राकर के अगल बगल की कुर्सी में संसदीय सचिव रश्मि सिंह और शहर कांग्रेस अध्यक्ष विजय पाण्डे बैठे हुए थे। 


बैठक व्यवस्था के क्रम में फिर जिला पंचायत अध्यक्ष अरुण सिंह चौहान, जिला सहकारी केंद्रीय बैंक बिलासपुर के अध्यक्ष प्रमोद नायक, जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष विजय केशरवानी बैठे हुए थे, उनके बगल में कलेक्टर सारांश मित्तर की कुर्सी लगी थी। सबसे अंत में शहर विधायक विधायक पांडेय के लिए कुर्सी रखी गई थी। हालांकि, इस बारे में बैजनाथ चंद्राकर ने कहा, कि उन्हें कोई जरूरी काम था, इसलिए कार्यक्रम के बीच चले गए।

Next Story