Rajasthan mansoon: प्रदेशभर में प्री मानसून की बारिश ने तोड़ा 9 साल का रिकार्ड, जानें अब कब होगी मानसून की एंट्री

देश में राजस्थान ऐसा राज्य है जहां मानसून (Rajasthan mansoon) की जानकारी आम से लेकर खास लोगो के लिए अहम होती है। मौसम विभाग (weather department) ने कहा है की इस बार दक्षिण-पशिचम मानसून के मौसम के दौरान राजस्थान में भी सामान्य बारिश होने की संभावना है।

Rajasthan mansoon: प्रदेशभर में प्री मानसून की बारिश ने तोड़ा 9 साल का रिकार्ड, जानें अब कब होगी मानसून की एंट्री
x

जयपुर: देश में राजस्थान ऐसा राज्य है जहां मानसून (Rajasthan mansoon) की जानकारी आम से लेकर खास लोगो के लिए अहम होती है। मौसम विभाग (weather department) ने कहा है की इस बार दक्षिण-पशिचम मानसून के मौसम के दौरान राजस्थान में भी सामान्य बारिश होने की संभावना है। वहीं, इस बार राजस्थान में प्री मानसून में पूरे राजस्थान में अच्छी बारिश हुई है। पिछले 24 घंटे में राजधानी जयपुर में जिस तरह से बादल बरसे हैं, उसने 9 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। वहीं 12 जिलों में एक दिन के अंदर 12 इंच तक बारिश हुई। राज्य की अधिकतर नदियों में पानी भर गया है। 


लेकिन राजस्थान में मौसम आज पूरी तरह बदल जाएगा। पूरे प्रदेश में आज से मानसूनी गतिविधियां थम जाएगी। आगामी तीन दिनों तक मौसम साफ रहेंगा। इसके बाद 26-27 जून को मानसून की एंट्री राजस्थान में होगी। जिससे फिर प्रदेश में बरसात की शुरुआत हो जाएगी। इस संबंध में मौसम विज्ञान केंद्र जयपुर ने पूर्वानुमान जारी किया है।


मौसम विज्ञान केंद्र जयपुर के अनुसार प्रदेश में गुरुवार से मानसून की गतिविधियां खत्म हो जाएगी। जो 26 को पूर्वी राजस्थान के कुछ जिलों से फिर शुरू होगी। सबसे पहले बरसात की शुरुआत उदयपुर व कोटा संभाग में होगी। जहां बारां, झालावाड़, चित्तौडगढ़़, बांसवाड़ा, डूंगरपुर, प्रतापगढ़ व उदयपुर जिलों के कुछ इलाकों में बारिश की संभावना रहेगी। 


इससे पहले गुरुवार को भी राजस्थान के कई जिलों में हल्की से मध्यम बरसात हुई।  कई जगह धूलभरी आंधी भी दर्ज हुई। मौसम विज्ञान केंद्र जयपुर के अनुसार इस दौरान सबसे ज्यादा बरसात बीकानेर के नोखा में दर्ज हुई। जहां 47.0 एमएम बरसात हुई।  रिपोर्ट के अनुसार पिछले दो दिन में राजस्थान के बारां, सिरोही, सीकर, अजमेर, जयपुर, उदयपुर, सिरोही, राजसमंद, टोंक, झुंझुनूं, बीकानेर, चूरू, जोधपुर, बाड़मेर, पाली व हनुमानगढ़ जिले के अलग-अलग इलाकों में बरसात दर्ज की गई है। 


मौसम विभाग के अनुसार मानसून एक बार फिर लेट हो गया है। दबाव क्षेत्र की कमी वजह से कम से कम दो दिन देरी से राजस्थान में आएगा। ऐसे में 25 जून से प्रदेश में एंट्री करने वाला मानसून 27 जून के आसपास राजस्थान में पहुंचेगा। वहीं, बरसात की गतिविधी कम होने के साथ प्रदेश में गर्मी का असर भी फिर बढऩे लगा है। दिन व रात दोनों का तापमान बढऩे के साथ दोनों तापमानों के बीच का अंतर भी बढऩा शुरू हो गया है।

Next Story