MP Panchayat elections 2022: प्रचार के लिए पहुंचे कृषि मंत्री कमल पटेल ने चलाई बैलगाड़ी, हांका खेत

हरदा: कहते है नेता मंत्री बड़ी बड़ी लग्ज़री गाड़ियों से नीचे नही उतरते चलती हुई गाड़ी से ही बात कर लेते है। लेकिन एक मामला ठीक इसके विपरीत देखने को मिला जहां कृषि मंत्री कमल पटेल बैल-गाड़ी हांकते नजर आ रहे हैं और यह वीडियो उन्होंने अपने ट्विटर पर भी अपलोड कर लिया

MP Panchayat elections 2022: प्रचार के लिए पहुंचे कृषि मंत्री कमल पटेल ने चलाई बैलगाड़ी, हांका खेत
x

हरदा:  कहते है नेता मंत्री बड़ी बड़ी लग्ज़री गाड़ियों से नीचे नही उतरते चलती हुई गाड़ी से ही बात कर लेते है। लेकिन एक मामला ठीक इसके विपरीत देखने को मिला जहां कृषि मंत्री कमल पटेल बैल-गाड़ी हांकते नजर आ रहे हैं और यह वीडियो उन्होंने अपने ट्विटर पर भी अपलोड कर लिया बैल गाड़ी चलकर बपचन की यादे ताजा हो गई।


दरअसल यह पूरा मामला हरदा जिले के ग्राम ऊडावां का है। जहां सोमवार को कृषि मंत्री कमल पटेल अचानक गांव पहुंचे तो किसानों को गाड़ी बैल चलते देख खुद को रोक नहीं पाए और किसानों से बैल गाड़ी खुद लेकर हांकने लगे। इस दौरान उन्होंने कहा कि बचपन में स्कूल या खेत कही भी जाना होता तो बैल गाड़ी ही एकमात्र साधन हुआ करता था। आजकल तो बैलगाड़ी बहुत कम देखने कक मिलती है। ऐसे में आज जब बैल गाड़ी हाकी तो बचपन की यादे ताजा हो गई। कई लोग इसे राजनीति से जोड़कर देख रहे हैं और कह रहे हैं कि यह त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के प्रचार प्रसार का नया तरीका है। 




कमल पटेल की बात करें तो वे शुरु से ही खेती से जुड़े हुए है। कमल पटेल के पिता किसान थे जिसके चलते उन्होंने बचपन से ही खेती की है। मध्यप्रदेश में  इन दिनो त्रिस्तरीय पंचायत और नगरीय निकाय चुनाव हो रहे हैं। चुनाव के मौसम में नेतागण जहां एक और अपनी पार्टी और प्रत्याशियों को जिताने की अपील करते नजर आते हैं वहीं दूसरी ओर कृषि मंत्री कमल पटेल किसान के रूप में किसान के साथ खड़े नजर आते हैं। सोमवार को भी ऐसे ही वह एक किसान के खेत पर पहुंचे और खेती शुरु कर दी। 

Next Story