Jaipur: अग्निपथ योजना के खिलाफ फिर से सड़कों पर उतरे युवा, बोले- अग्निपथ योजना को वापस लो

सेना में भर्ती से जुड़ी अग्निपथ योजना (Agnipath Scheme) को लेकर देशभर में हिंसक प्रदर्शन जारी है। केंद्र सरकार की इन नई योजना के खिलाफ सबसे अधिक हिंसा बिहार (Bihar) में देखने को मिल रहा है।

Jaipur: अग्निपथ योजना के खिलाफ फिर से सड़कों पर उतरे युवा, बोले- अग्निपथ योजना को वापस लो
x

Agnipath Scheme Controversy: सेना में भर्ती से जुड़ी अग्निपथ योजना (Agnipath Scheme) को लेकर देशभर में हिंसक प्रदर्शन जारी है। केंद्र सरकार की इन नई योजना के खिलाफ सबसे अधिक हिंसा बिहार (Bihar) में देखने को मिल रहा है। बिहार में हिंसक प्रदर्शन को देखते हुए 12 जिलों में 48 घंटे के लिए मोबाइल इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया गया है। कई राज्यों में युवा सड़कों पर निकलकर इस योजना के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। 


इसके बाद राजस्थान में केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना का विरोध बढ़ता ही जा रहा है। शनिवार को जयपुर के सांगानेर में बड़ी संख्या में युवाओं ने अग्निपथ परियोजना का विरोध किया। विरोध कर रहे युवकों ने कहा कि अगर मोदी सरकार ने अग्निपथ परियोजना को वापस नहीं लिया तो। ऐसे में राजस्थान समेत पूरे देश में उग्र आंदोलन होगा। जिसके लिए मोदी सरकार जिम्मेदार होगी।


पिछले तीन साल से सेना में भर्ती की तैयारी कर रहे अमित ने कहा कि मोदी सरकार युवाओं के भविष्य के साथ खेल खेल रही है। मोदी सरकार ने देश की सबसे प्रतिष्ठित नौकरी को ठेके में बदल दिया है। जिसे देश के युवा किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं करेंगे। अमित ने कहा, "मेरे जैसे लाखों युवा वर्षों से सेना की तैयारी कर रहे हैं।" लेकिन अब मोदी सरकार 4 साल से नौकरी छीन कर हमारे सपनों के साथ खेल खेल रही है। जिसे हम मरते दम तक बर्दाश्त नहीं करेंगे।


गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने 14 जून को सेना की तीन शाखाओं (सेना, नौसेना और वायु सेना) में बड़ी संख्या में युवाओं की भर्ती के लिए 'अग्निपथ' भर्ती योजना शुरू की थी। लेकिन इस योजना के ऐलान के साथ ही जयपुर समेत पूरे राजस्थान में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए हैं। जिसके बाद केंद्र सरकार ने भी इस योजना में संशोधन किया। लेकिन जहां युवा मांग कर रहे हैं कि पूरी योजना को खत्म कर पहले की तरह भर्तियां की जाएं, वहीं यह देखना बाकी है कि केंद्र की मोदी सरकार युवाओं के बढ़ते विरोध को किस हद तक दबा पाएगी।

Next Story