माल्या के बयान पर वित्त मंत्री जेटली का जवाब, सेटलमेंट का दावा झूठा


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (12 सितंबर): शराब कारोबारी द्वारा भारत छोड़ने से पहले वित्त मंत्री से मुलाकात की खबरों को अरुण जेटली ने ब्लॉग लिखकर खारिज किया है। अपने ब्लॉग में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने लिखा, 'विजय माल्या ने कहा कि वह भारत छोड़ने से पहले सेटलमेंट ऑफर को लेकर मुझसे मिले थे। तथ्यात्मक रूप से यह बयान पूरी तरह झूठ है। 2014 से अब तक मैंने माल्या को मुलाकात के लिए कोई अपॉइंटमेंट नहीं दिया है, ऐसे में मुझसे मिलने का सवाल ही नहीं उठता।'

अपने ब्लॉग में जेटली ने कहा, 'हालांकि वह राज्यसभा सदस्य थे और कभी-कभी सदन में आते थे। वह सदन की कार्रवाई के बाद एक बार अनौपचारिक तौर पर मेरे कमरे में आए थे। इस दौरान उन्होंने कहा था,'मैं सेटलमेंट के लिए एक ऑफर तैयार कर रहा हूं।' इस बातचीत को आगे बढ़ाने से पहले मैंने उन्हें उनके पहले के ऑफरों के बारे में भी बताया। मैंने माल्या से कहा, 'मेरे सामने ऑफर रखने का कोई मतलब ही नहीं है, उन्हें यह बात अपने बैंकों के सामने रखनी चाहिए।' यहां तक कि वह उस दौरान अपने हाथ में जो पेपर लिए हुए थे, मैंने उन्हें भी नहीं लिया।'  

जेटली ने कहा, 'माल्या ने राज्यसभा सदस्य के तौर पर मुलाकात का गलत फायदा उठाया और मेरे द्वारा इस मामले में उन्हें अपॉइंटमेंट देने का सवाल ही नहीं उठता।'  




बता दें कि शराब कारोबारी विजय माल्या के प्रत्यर्पण के मामले में चल रही सुनवाई के दौरान माल्या ने एक बयान देकर बड़ा धमाका कर दिया है। माल्या ने कहा कि वह भारत छोड़ने से पहले वित्तमंत्री से मिलकर आए थे। माल्या ने कहा, 'वह सेटलमेंट को लेकर वित्त मंत्री से मिले थे, लेकिन बैंकों ने मेरे सेटलमेंट प्लान को लेकर सवाल खड़े किए।' माल्या ने कहा कि वह अपना बकाया चुकाने के लिए तैयार हैं।