बुंदेलखंड क्षेत्र के विकास के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्ध: मुख्यमंत्री योगी

नई दिल्ली ( 21 अप्रैल ): उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि उनकी सरकार बुन्देलखण्ड के विकास के लिए प्रतिबद्ध है। मुख्यमंत्री ने कहा कि लोक कल्याण का अर्थ-परिवार, जाति का कल्याण नहीं, बल्कि बिना भेदभाव के सर्वसमाज का कल्याण है और यही वास्तविक लोकतंत्र है। ऐसे लोकतंत्र की स्थापना के लिए राज्य सरकार कृतसंकल्प है।


राज्य सरकार ऐसी जनकल्याणकारी योजनाएं संचालित करेगी जिससे कोई गरीब भूख अथवा इलाज के अभाव में दम नहीं तोड़ेगा। पैसे के अभाव में किसी कन्या की शादी नहीं रुकेगी न ही कोई बच्चा शिक्षा से वंचित रहेगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार भ्रष्टाचार, अराजकता, समाज विरोधी एवं राष्ट्र विरोधी तत्वों से सख्ती से निपटेगी। श्री योगी आज झांसी भ्रमण के दौरान पैरामेडिकल कॉलेज में जनप्रतिनिधियों एवं पार्टी पदाधिकारियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि बुन्देलखण्ड के विकास के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्ध है।


बुन्देलखण्ड क्षेत्र के तीव, विकास के लिए बुन्देलखण्ड को एक 6-लेन एक्सप्रेस-वे के माध्यम से दिल्ली से जोड़ा जाएगा। इससे बुन्देलखण्ड में उद्योगों की स्थापना की शुरुआत होगी। आने वाले वर्षों में नौजवानों को स्थानीय स्तर पर रोजगार की उपलब्धता से पलायन रुकेगा। इससे पूर्व, मुख्यमंत्री ने झांसी एवं चित्रकूटधाम मण्डल की कानून व्यवस्था एवं विकास कार्यों की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को निर्देश दिए कि सम्पूर्ण बुन्देलखण्ड क्षेत्र में किसी भी दशा में पेयजल की समस्या नहीं होनी चाहिए।


निर्माणाधीन पेयजल परियोजनाओं को प्रत्येक दशा में अप्रैल माह में ही पूरा कर लिया जाए। उन्होंने कहा कि आंशिक दोष के कारण बंद पाइप पेयजल परियोजनाओं को शीघ्रातिशीघ्र ठीक करा लिया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसे ग्रामों को चिन्हित कर लिया जाए, जहां टैंकर द्वारा पानी आपूर्ति की जानी है।