पीएम मोदी के आह्वान के बाद बैंकों ने दिया नए साल का तोहफा, कम की ब्याज दरें

नई दिल्ली ( 1 जनवरी ): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को बैंकों से गरीबों तथा निम्न मध्यम वर्ग को ऋण में प्राथमिकता देने को कहा था।  इसके बाद देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (ए स्‍टेट बैंक ऑफ इंडिया(एसबीआई), पंजाब नेशनल बैंक(पीएनबी) और यूनियन बैंक ने ब्‍याज दरों में कटौती कर दी। ब्‍याज दरों में कटौती का यह एलान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बैंकों से गरीबों तथा निम्न मध्यम वर्ग को लोन में प्राथमिकता देने के बयान के एक दिन बाद आया है।देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने रविवार को अपनी विभिन्न परिपक्वता अवधि की बेंचमार्क ऋण दरों में 0.9 प्रतिशत कटौती की घोषणा की। नई दरें आज से प्रभावी होंगी। माना जा रहा है कि अन्य बैंक भी ऐसा कदम उठा सकते हैं। एसबीआई ने एक साल की अवधि की कोष की सीमान्त लागत आधारित ऋण दर (एमसीएलआर) को 8.90 से घटाकर 8 प्रतिशत कर दिया है।इसी तरह एक दिन के कर्ज के लिए ब्याज दर को 8.65 से घटाकर 7.75 प्रतिशत किया है। तीन साल की अवधि के कर्ज  के लिए इसे 9.05 प्रतिशत से घटाकर 8.15 प्रतिशत किया गया है। बैंक ने एक महीने, तीन महीने, छह महीने तथा दो साल के कर्ज पर भी ब्याज दर में इसी अनुपात में कटौती की है। इस तरह जनवरी, 2015 से बैंक अपनी बेंचमार्क लोन दर में दो प्रतिशत की कटौती कर चुका है।पिछले सप्ताह एसबीआई के सहायक बैंक स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर ने लोन दरों में 0.3 प्रतिशत की कटौती की थी। वहीं, आईडीबीआई बैंक ने इसमें 0.6 प्रतिशत की कटौती की थी।पंजाब नेशनल बैंक ने भी अपनी ब्याज़ दर में कटौती कर दी है– पंजाब नेशनल बैंक ने ब्याज दर में 0.7 फीसदी यानी 70 बेसिस प्वाइंट्स की कटौती की।– पंजाब नेशनल बैंक का 1 साल का मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फड्स बेस्ड लेडिंग रेट्स यानी एमसीएलआर अब 9.15 फीसदी के बजाए 8.45 फीसदी होगा।– अनुमान है कि इस कटौती की वजह से पीएनबी से लिए घर कर्ज पर ब्याज दर में 0.7 फीसदी की कमी आएगी।यूनियन बैंक ने घटाया ब्याजइस बीच यूनियन बैंक आॅफ इंडिया ने भी अपने ग्राहकों के लिए लोन सस्ता कर दिया है। बैंक ने बेंचमार्क लेंडिंग रेट में 0.65 फीसदी से लेकर 0.90 फीसदी तक की कमी की है। यूनियन बैंक का एक साल का एमसीएलआर 8.65 फीसदी है।