चांद पर मानवरहित यान भेजने की तैयारी में टीमइंडस

नई दिल्ली(3 जनवरी): इंजिनियरों और वैज्ञानिकों की एक स्टार्टअप टीम चंद्रमा पर मानवरहित यान भेजने की दिशा में एक और कदम बढ़ गई है। टीमइंडस के इंजिनियरों ने चंद्रमा की सतह जैसा धरातल तैयार किया है ताकि यान की लैंडिंग से जुड़ी प्रैक्टिस की जा सके।

- उन्होंने 15 गुणा 12 फुट का एक गड्ढा तैयार किया। फिर उसमें पत्थरों की खदानों से हासिल 16 टन सफेद चूरा डालकर चंद्रमा जैसी सतह बनाई है।

- टीमइंडस के जेडी कमांडर (हेड) स्ट्रक्चर्स डॉ पी. एस. नायर ने बताया, 'टीमइंडस के मून मिशन की लैंडिंग साइट चंद्रमा पर मेयर इंब्रियम यानी लावा से तैयार एक विशाल मैदान है। उस इलाके में चंद्रमा की धरती नरम है और उस पर मूव करना मुश्किल हो सकता है। हमें सुनिश्चित करना होगा कि जो रोवर हम डिजाइन कर रहे हैं, वह चंद्रमा की सतह पर आसानी से मूव करे।'

- टीमइंडस के लूनर स्पेसक्राफ्ट और रोवर को 100 से ज्यादा इंजीनियरों की टीम तैयार कर रही है। इनमें ISRO से रिटायर हुए 20 वैज्ञानिक भी हैं। स्पेसक्राफ्ट और रोवर का नाम ECA यानी 'एक छोटी सी आशा' रखा गया है।

- नायर ने कहा, 'सतह को देखते हुए हमें अलग-अलग पहिए तैयार करने होंगे और रोवर की लैंडिंग और मूवमेंट की जांच करनी होगी। इसमें उसकी रफ्तार, फिसलने की स्थिति, ढलान पर गति, उबड़-खाबड़ सतह पर चलने की क्षमता आदि की जांच करनी होगी।'