कंगाली के कगार पर चीन, क्रेडिट रेट सबसे घटिया, फिर आ सकता है मंदी का दौर

नई दिल्ली (21 सितंबर): दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था का दावा करने वाला चीन इस समय कर्ज के बोझ से दबा जा रहा है। बढ़ते कर्ज का ब्याज भी समय पर चुकता नहीं कर पाने के कारण दुनिया के देशों की क्रेडिट रेटिंग देने वाली संस्था एस एण्ड पी ने चीन की रेटिंग डबल ए मायनस कर दी है। यह रेटिंग सबसे घटिया रेटिंग मानी जाती है। चूंकि चीन बड़ी अर्थव्यवस्था है इसलिए इतनी घटिया रेटिंग से चीन को तो झटका लगेगा ही दुनिया में भी एक बार फिर मंदी का दौर आ सकता है।