1 अप्रैल से देश के 7 एयरपोर्ट पर पैसेंजर्स के हैंडबैग पर नहीं लगेगी सुरक्षा मुहर

नई दिल्ली ( 30 मार्च ): सेंट्रल इंडस्ट्रियल सिक्यॉरिटी फोर्स (CISF) ने 1 अप्रैल से देश के 7 बड़े हवाई अड्डों पर यात्रियों के सुरक्षा जांच में थोड़ी राहत दी है। दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, बेंगलुरु, हैदराबाद, अहमदाबाद और कोच्चि के हवाई अड्डों पर यात्रियों को अपने केबिन बैग (हैंड बैग) के टैग पर सुरक्षा मुहर नहीं लगवानी पड़ेगी।


दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, बेंगलुरू, हैदराबाद, अहमदाबाद और कोच्चि एयरपोर्ट पर हैंडबैग पर सिक्युरिटी टैग लगाए जा रहे थे। सरकार ने सिक्युरिटी टैग न लगाने का ट्रायल 7 एयरपोर्ट्स पर शुरू किया था, इसके सक्सेसफुल रहने पर इसे लागू कर दिया गया था।


सेंट्रल इंडस्ट्रियल सिक्यॉरिटी फोर्स (CISF) ने इन एयरपोर्ट्स पर कुछ जरूरी बदलाव करके यह फैसला घरेलू और इंटरनेशनल, दोनों यात्रियों के लिए लिया है। नागरिक उड्डयन सुरक्षा विनियामक (BCAS) ने बीती 23 फरवरी को इन 7 एयरपोर्ट्स पर यह व्यवस्था खत्म करने की मांग की थी। इन हवाई अड्डों में चेन्नै को छोड़कर देश की सभी मेट्रो सिटीज शामिल हैं।


CISF ने कहा कि दिल्ली एयरपोर्ट के टर्मिनल 1 और 3 पर हाई डेफिनिशन कैमरे इंस्टॉल किए गए हैं। प्री-एंबार्केशन सिक्यॉरिटी चेक एरिया (जहां यात्री सिक्यॉरिटी चेक के लिए लाइन लगाते हैं) में 36 और सिक्यॉरिटी होल्ड एरिया (सिक्यॉरिटी चेक के बाद जहां यात्री भेजे जाते हैं) में 44 कैमरे लगे हैं।


गौरतलब है कि CISF और BCAS ने पिछले साल दिसंबर में 12 एयरपोर्ट्स पर एक हफ्ते का पायलट प्रॉजेक्ट चलाया था जिसके तहत घरेलू यात्रियों के हैंड बैगेज पर सिक्यॉरिटी स्टांप नहीं लगाया गया था।