16 नवंबर को अयोध्या जाएंगे श्रीश्री रविशंकर, कहा- अब तक सभी बातें सकारात्मक

नई दिल्ली (13 नवंबर): अयोध्या विवाद में मध्यस्थ की भूमिका निभा रहे अध्यात्मिक गुरु श्रीश्री रविशंकर 16 नवंबर को अयोध्या जाएंगे। यहां वो इस विवाद से जुड़े हिन्दू और मुस्लिम दोनों ही पक्षकारों से मुलाकात करेंगे। श्री श्री रविशंकर ने कहा कि वो परसों अयोध्या जाएंगे और अब तक इस मामले से जुड़े जीतने भी पक्षों से बातचीत हुई है वो सकारात्मक रही है।

इससे पहले 11 नवंबर को निर्मोही अखाड़ा के दिनेंद्र दास ने बंगलौर में श्रीश्री रविशंकर से मुलाकात की थी। दास ने श्री श्री से अयोध्या विवाद में मध्यस्थता के लिए अयोध्या आने आने की गुजारिश की थी। रविशंकर अयोध्‍या में राममंदिर के मसले पर इससे पहले शिया नेताओं से भी बातचीत कर चुके हैं। 

आपको बता दें कि इसी वर्ष 21 मार्च को सुप्रीम कोर्ट के तत्कालीन मुख्य न्यायाधीश ने आपसी सहमति से विवाद हल करने का सुझाव दिया था। इसके बाद से ही आपसी सहमति के प्रति उत्सुकता बयां हुई। मंदिर के समर्थन में कुछ पूर्व से ही मुखर मुस्लिम कारसेवक मंच के अध्यक्ष आजम खान एवं बब्लू खान जैसे मुस्लिम नेता और प्रभावी होकर आगे आए।

इधर शिया बोर्ड का सुझाव है कि रामजन्मभूमि पर से मुस्लिम अपना दावा छोड़ें और वे मस्जिद समुचित दूरी पर बनाएं। शिया बोर्ड के सुझाव पर मंदिर समर्थक संतों ने उत्साह तो दर्शाया पर विवाद से जुड़े मुस्लिम पक्षकार अभी भी सहमति से दूर हैं।