श्रीलंका ने चीन को हंबनटोटा बंदरगाह सौंपा, भारत को झटका

नई दिल्ली ( 9 दिसंबर ):  रणनीतिक तौर पर महत्वपूर्ण हंबनटोटा बंदरगाह को श्रीलंका ने शनिवार को औपचारिक तौर पर चीन को 99 साल की लीज पर दे दिया है।

अधिकारियों ने बताया कि चाइना मर्चेंट्स पोर्ट होल्डिंग्स कंपनी द्वारा प्रबंधित हंबनटोटा इंटरनैशनल पोर्ट ग्रुप और हंबनटोटा इंटरनैशनल पोर्ट सर्विसेज के साथ श्री लंका पोर्ट्स अथॉरिटी इस बंदरगाह और इसके आसपास के निवेश क्षेत्र को नियंत्रित करेंगे।

श्रीलंका के तत्कालीन रक्षा मंत्री रवि करुणनायके ने पिछले साल कहा था कि श्रीलंका पर चीन का आठ अरब डॉलर कर्ज है। मौजूदा प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे ने संसद में बंदरगाह का स्वामित्व हस्तांतरण समारोह में कहा, ‘‘इस करार के साथ हमने कर्ज लौटाना शुरू कर दिया है। हंबनटोटा ङ्क्षहद महासागर में महत्वपूर्ण बंदरगाह के तौर पर उभरेगा।’’ विपक्ष इस करार को देश की संपत्ति बेचना करार दिया है।