रहाणे के भविष्यवाणी से बढी श्रीलंकाई टीम की मुश्किलें

नई दिल्ली(5 अगस्त): कोलंबो में खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच में श्रीलंकाई टीम की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं। भारतीय टीम के उप कप्तान अजिंक्य रहाणे ने 132 रन की शतकीय पारी खेलने के बाद बयान देते हुए श्रीलंकाई खेमे के लिए भविष्यवाणी की। 

- उन्होंने कहा कि टेस्ट मैच के बाकी बचे दिनों में बल्लेबाजों के लिए विकेट पर टिक पाना आसान नहीं होगा। रहाणे ने कहा, ‘‘मैच आगे बढऩे के साथ इस विकेट पर बल्लेबाजी करना और मुश्किल होता जाएगा।’’ 

- रहाणे ने कहा कि यह स्पिनरों के खिलाफ सर्वश्रेष्ठ पारियों में से एक है। मेरा ध्यान दबदबा बनाने पर था। बल्लेबाजी के लिए जाते हुए मुझे थोड़ा बहुत पता था कि विकेट कैसा बर्ताव करेगा, इससे कितना उछाल मिलेगा और मेरे खेल के अनुकूल होगा या नहीं। पुजारा और मेरे बीच संवाद एेसा था कि हमने बामुश्किल ही कोई मेडन आेवर खेला। इसलिए उन पर दोबारा दबाव बन गया। मैच आगे बढऩे के साथ इस विकेट पर बल्लेबाजी करना और मुश्किल होता जाएगा। इस श्रृंखला का भारत का मजबूत पक्ष श्रीलंका के स्पिनरों विशेषकर रंगना हेराथ का सामना करना रहा और रहाणे ने कहा कि मेजबान टीम के स्पिनरों से निपटने के लिए उनके पास रणनीति थी।

- उन्होंने कहा कि जब हम पिछली बार यहां श्रीलंका के खिलाफ खेले थे, विशेषकर गाले टेस्ट के बाद, हमने फैसला किया था कि हेराथ के खिलाफ फुटवर्क का इस्तेमाल बेहद जरूरी है। इसलिए उसके और उनके स्पिनरों के खिलाफ हम फुटवर्क का इस्तेमाल करना चाहते थे जिससे के बैकफुट पर अधिक रन बना सकें। रहाणे ने कहा कि विशेषकर इस तरह के विकेट पर, यह काफी धीमा और सूखा है, इसलिए हमें पता था कि अगर हम फुटवर्क का इस्तेमाल करेंगे तो हम अधिक रन बना सकते हैं। उछाल असमान थी। कुछ गेंद उछाल ले रही थी और कुछ नीची रह रही थी। हमें पता था कि अगर वे स्वीप शाट खेलेंगे तो यह हमारे लिए अच्छा है, हमारे पास विकेट हासिल करने का मौका होगा।