श्रीदेवी की जिंदगी से जुड़ा एक रहस्य, किस हीरो के साथ की थी सीक्रेट शादी


मुंबई (2 जुलाई): परदे पर जिस दौर में श्रीदेवी की जोड़ी जीतेन्द्र के साथ जमती थी, उस वक्त श्रीदेवी की असल जिंदगी के हीरो थे मिथुन चक्रवर्ती। मिथुन 1982 में आई फिल्म डिस्को डांसर के बाद नेशनल हीरो बन चुके थे। मिथुन की हेयर स्टाइल और डिस्को डांस पर पूरा जमाना फिदा था। लेकिन वो हीरो श्रीदेवी से पहली ही मुलाकात में दिल दे बैठा। श्रीदेवी के साथ मिथुना का प्यार परवान चढ़ा जाग उठा इंसान की आउटडोर शूटिंग पर। श्रीदेवी स्वभाव से शर्मीली और कम बोलने वाली थी। लेकिन मिथुन एक बार खुल जाने पर हंसी मजाक पर उतर जाते। शूटिंग से फुरसत मिलती तो श्रीदेवी को रिझाने के लिए मिथुन उनके ही गानों पर उन्हीं के अंदाज में डांस करते। श्रीदेवी को हंसाने बहलाने का हर बहाना ढूंढते रहते। दोनों को प्यार का एहसास तब हुआ, जब गंटूर से बंबई वापस लौटने की बारी आई। मिठुन और श्रीदेवी के लिए बंबई में मिलना जुलना आसान नहीं था। इसमें सबसे बड़ी बाधा थी मिथुन का शादी-शुदा होना था।


मिथुन चक्रवर्ती ने योगिताबाली से लव मैरिज किया था। इससे पहले योगिता किशोर कुमार की पत्नी थी। लेकिन बंबई में नए-नए आए हीरो मिथुन चक्रवर्ती से प्यार हुआ, तो उस मशहूर सिंगर की जिंदगी से अलग हो गईं। तब मिथुन भी हेलेना लियो नाम की मॉडल से शादी कर चुके थे लेकिन योगिता से प्यार के बाद मिथुन की पहली शादी टूट गई। लेकिन श्रीदेवी के आने के बाद मिठुन और योगिताबाली की शादी-शुदा जिंदगी में ऐसा ही कुछ होने लगा। हालांकि योगिता को अपने पति की नई मुहब्बत की भनक नहीं थी, लेकिन उस दौर की मैगजीन्स में सुर्खियां ये बनने लगी कि मिथुन श्रीदेवी को अपनी फिल्मों में हीरोइन रखने के लिए निर्माताओं पर जोर डालते हैं।

  

 1984-85 में मिथुन के साथ श्रीदेवी की कई फिल्में आई। वक्त की आवाज, वतन के रखवाले, गुरू जैसी फिल्मों में दोनों की जोड़ी खूब जमी तो इन रोमांटिक किरदारों के साथ असल जिंदगी में भी प्यार दीवानगी की हद तक बढ़ता गया। परदे पर मिथुन नए दौर के एंग्री यंगमैन साबित हो रहे थे, तो श्रीदेवी हर दिल की धड़कन बनती जा रही थी। एक लिहाज से कहें, तो मिथुन की सबसे कामयाब पार्टनर थी श्रीदेवी। ऐसे में मिठुन को जब बोनी कपूर से श्रीदेवी की नजदीकियों का पता चला, तो वो बेहद नाराज हुए। तब मिठुन का भरोसा जीतने के लिए श्रीदेवी ने बोनी कपूर की कलाई पर राखी बांधी थी।


ग्लैमर, शोहरत और हिंदी सिनेमा में सुपरस्टारडम, कामयाबी श्रीदेवी के कदम चूम रही थी। लेकिन इस बीच श्रीदेवी की जिंदगी का एक हिस्सा खामोश मायूसी के दौर से गुजर रहा था। उस हिस्से में दर्द उस मुहब्बत के बिखर जाने का था, जिसके लिए श्रीदेवी ने जमाने की तमाम बंदिशों और रवायतें भुला दी थी। फिल्मी दुनिया में कानाफुसियां तो 1986-87 के बाद से ही शुरु हो गई थी कि श्रीदेवी अपने को-स्टार मिथुन चक्रवर्ती से शादी कर चुकी हैं। लेकिन श्रीदेवी और मिथुन दोनो ही इसे खारिज करते रहे। लेकिन 1990 में आई फिल्मी मैगजीन की एक सनसनीखेज रिपोर्ट ने खुलासा किया श्रीदेवी और मिथुन चक्रवर्ती की शादी अफवाह नहीं, बल्कि सच है।


स्टारडस्ट मैगजीन में छपे उस लेख में एडिटर निशि प्रेम सिंह के हवाले से श्रीदेवी और मिथुन चक्रवर्ती के 5 साल के रिश्तों का पूरा ब्योरा दिया गया। मुहब्बत से लेकर शादी की तारीख तक। उस लेख के मुताबिक 19 फरवरी 1987 को श्रीदेवी और मिथुन ने अपने मड आइलैंड के कॉटेज में शादी कर ली थी। उस शादी में श्रीदेवी की तरफ से उनकी बहन लता और मिथुन की तरफ से उनके मां-बाप और कुछ करीबी दोस्त शरीक हुए थे। ये शादी इतनी गुप्त तरीके से हुई कि मिथुन की पत्नी योगिताबाली को इसकी भनक तक नहीं लगी। हालांकि मिथुन की पत्नी योगिताबाली को श्रीदेवी से अफेयर की जानकारी जरूर थी।


1984-85 के उस दौर में जब परदे के साथ असल जिंदगी में श्रीदेवी और मिथुन का रोमांस परवान चढ़ा, इसकी सुर्खियों से योगिताबाली अंजान नहीं थी। एक मैगजीन को दिए इंटरव्यू में योगिता बाली ने माना भी था श्रीदेवी को लेकर मिथुन से कहासुनी होती रही थी। इस बात की खबरें उस दौर की फिल्मी मैगजीन्स में जोर शोर से छपा करती हैं। श्रीदेवी और मिथुन किस फिल्म में काम कर रहे हैं, शूटिंग के अलावा कब और कहां मिलते हैं। जाहिर तौर पर ऐसी खबरों पर नजर योगिताबाली की भी रही। लेकिन उन दिनों सुर्खियों में आई थी मिथुन और श्रीदेवी पर नजर रखने वाली एक अंजानी लड़की की। उस लड़की ने योगिता बाली के सामने मुहब्बत के उस रिश्ते का राज फाश कर दिया।


 श्रीदेवी और मिथुन की चोरी छिपे मुलाकातों का ब्योरा सिने-ब्लिज नाम की फिल्म मैगजीन में छपा था। लेख के मुताबिक उस अंजानी लड़की ने योगिता बाली ने सिने-ब्लिज के दफ्तर में भी फोन किया था। ये बताने के लिए कि उसकी दी हुई सूचना पर योगिताबाली कैसे उस होटल में पहुंची, जहां श्रीदेवी और मिथुन चक्रवर्ती ठहरे हुए थे। योगिता बाली के पहुंचने के बाद किस तरह होटल के कमरे में हंगामा हुआ। यहां तक कि श्रीदेवी और योगिताबाली के बीच हाथापाई तक हुई। सिने-ब्लिज की  पत्रकार मीनू मथाई के मुताबिक वो अजनबी लड़की उसी होटल में काम करती थी और मैगजीन से पहले मिथुन और श्रीदेवी की हर मुलाकात की जानकारी योगिताबाली को देती थी।


 होटल में हुए उस हंगामे की खबर से हालांकि योगिताबाली सिने-ब्लिज को दिए दूसरे इंटरव्यू में इंकार कर गईं। लेकिन मिथुन और उनके बीच किसी दूसरी औरत के आ जाने के दर्द छिपा नहीं पाई। उस घटना से आहत श्रीदेवी भी कम नहीं थी। श्रीदेवी नहीं चाहती थी मिथुन का घर टूटे, बल्कि उन्हें लगता था कि बीच का कोई रास्ता जरूर निकल जाएगा। लेकिन अब बात बदनामी तक पहुंच गई। उधर, उस हंगामे के बाद योगिता बाली और मिथुन के बीच इतना तनाव बढ़ा, कि मिथुन ने घर आना बंद कर दिया। मिथुन योगिता को लाख भरोसा देते रहे कि वो तलाक नहीं देने जा रहे, लेकिन अनबन दूर नहीं हुई।


 योगिताबाली और अपने दो साल के बेटे मिमोह से अलग अपने मड आइलैंड वाले कॉटेज में रहने चले गए। स्टारड्स के अप्रैल 1990 अंक में छपे उस लेख के मुताबिक श्रीदेवी और मिथुन शूटिंग के बाद इसी कॉटेज में मिलते। श्रीदेवी चाहती थी मिथुन उस रिश्ते को कोई नाम दें। बदनामी से बचने का कोई और दूसरा रास्ता भी नहीं था। आखिर दोनों ने चुपके शादी कर ली हालांकि स्टारडस्ट के उस लेख में इस बात का जिक्र नहीं कि चुपके शादी का आइडिया किसका था। मगर शादी की तारीख और उसमें शामिल मेहमानों का हवाला जरूर दिया गया है। 1990 में ये खबर तब आई थी, जब श्रीदेवी और मिथुन एक दूसरे की जिंदगी से दूर जा चुके थे।


मिथुन और श्रीदेवी की शादी की खबर जैसे पुख्ता नहीं हुई, वैसे ही उनके बीच ब्रेक की बात भी कभी पक्के तौर पर नहीं कही गई। लेकिन स्टारडस्ट के उस लेख में इसका भी ब्योरा दिया गया है कि फरवरी 1987 में मिथुन से शादी के बाद श्रीदेवी मड आइलैंड के उसी कॉटेज में रहने लगी थी। उनके साथ मिथुन के मां-बाप भी रहने लगे थे। वो शादी भले ही गुप्त थी, लेकिन मिथुन के साथ अपनी दुनिया में बेहद खुश थी श्रीदेवी। लेकिन बात बिगड़नी तब शुरु हुई, जब मिथुन अपने बेटे मिमोह से मिलने योगिता के घर जाने लगे। योगिता को अब भी श्रीदेवी से शादी की भनक नहीं थी। लेकिन श्रीदेवी मिथुन के बदले रवैये से नाराज रहने लगीं। श्रीदेवी अब ये चाहने लगी थीं कि मिथुन शादी का ऐलान सबके सामने करें।


उस दौर में मिठुन और श्रीदेवी की नजदीकियां फिल्मों से अलग भी दिखती थी। अफवाहों के उस दौर में शादी के सवाल श्रीदेवी से भी पूछे जाते और मिथुन से भी। तब श्रीदवी का जवाब होता- मैं मिथुन से शादी करूंगी, लेकिन तभी जब वो योगिता बाली से कानूनी तौर पर अलग हो जाएंगे। स्टारडस्ट में छपे श्रीदेवी के इस बयान में शादी की बात से इंकार जरूर था, इससे रिश्तों पर मुहर भी लग गई। लेकिन मिथुन इस बात पर भड़क गए। उन्होंने कहा- मैं और श्रीदेवी तो बस दोस्त है। उनसे शादी और योगिता को तलाक की बात कहां से आ गई। मिथुन ने ये बयान तो शादी को छुपाने के लिए दिया था लेकिन श्रीदेवी भड़क गई। श्रीदेवी ये कहते मिथुन का घर छोड़ गईं कि जब तक सामने शादी का ऐलान जमाने के सामने नहीं होगा, तब तक वो घर नहीं लौटेंगी।


 श्रीदेवी के जाने के बाद एक झटके में जैसे मिथुन की दुनिया उजड़ गई। तब उन्हें लगा था श्रीदेवी का गुस्सा थोड़े दिनों का है लेकिन वो तो फिल्मों की शूटिंग छोड़ अपनी मां के साथ छुट्टी पर चली गईं। वो भी मिथुन को बिना बताए। शादी का ऐलान हालांकि मिथुन के लिए आसान नहीं था, लेकिन एक पार्टी में नशे की हालत में उन्होंने ऐलान कर ही दिया। वो पार्टी मिथुन की एक फिल्म परम-धरम के निर्माता राम दयाल ने दी थी। वो पहली पार्टी थी जिसमें मिथुन श्रीदेवी के बिना शरीक हुए थे। उस रात नशे में निढाल मिथुन ने सबके सामने कह दिया- मैं श्रीदेवी से शादी कर चुका हूं। श्रीदेवी मेरी पत्नी है। यही नहीं, ये बात मिथुन ने श्रीदेवी को अमेरिका फोनकर भी बता दी कि मैने शादी का ऐलान कर चुका हूं।


 शादी के ऐलान के बाद मिथुन को लगा था कि श्रीदेवी का गुस्सा कम हो जाएगा और वो घर लौट आएंगी। लेकिन श्रीदेवी ने तो अमेरिका से लौटने की बात तक मिथुन को नहीं बताई और ना ही कभी मिथुन से मिलने उनके घर गईं। शायद श्रीदेवी को इस रिश्ते का अंजाम पता चल चुका था। मुहब्बत के इस त्रिकोण में एक न एक दिल टूटना ही था। श्रीदेवी ने अपना रास्ता ही अलग करना तय कर लिया। लेकिन श्रीदेवी के इस फैसले की जानकारी कतई नहीं थी। अप्रैल 1990 में छपी स्टारडस्ट की खबर के मुताबिक मिथुन उस होटल में गए, जहां श्रीदेवी अपने मां के साथ ठहरी थी। लेकिन मां ने उन्हें मिलने नहीं दिया। तब मिथुन ने श्रीदेवी को अपनी पत्नी कहकर हक जताना शुरु किया। लेकिन श्रीदेवी ने कमरे से बाहर आते ही कह दिया- मेरा तुमसे कोई रिश्ता नहीं। इसी घटना के बाद श्रीदेवी और मिथुन ने अपनी सीक्रेट मैरिज को दफन  कर दिया।