जानिए, क्यों किडनी बेचने को मजबूर है यह गोल्ड मेडलिस्ट स्क्वाश खिलाड़ी

बिजनौर (12 जनवरी): उत्तर प्रदेश के बिजनौर में रहने वाला गोल्ड मेडलिस्ट स्क्वाश खिलाड़ी अपनी गरीबी से इतना परेशान हो गया कि उसे अपनी किडनी की बोली लगानी पड़ी।

23 साल के रवि दीक्षित ने 2010 में एशियन जुनियर चैंपियनशिप में गोल्ड मैडल जीता था। लेकिन आज वो अपनी ग़रीबी से इस क़दर परेशान हो गए कि किडनी तक बेचने की सोच ली।

पूरे देशभर से जिन चार खिलाड़ियों को अगले महीने गुवाहाटी में होने वाले साउथ एशियाई कम्पटीशन के लिए चुना गया है उसमें रवि का भी नाम है लेकिन कोई स्पोंसर ना मिल पाने की वजह से रवि ने सोशल मीडिया पर अपनी किडनी की बोली लगा दी।

उत्तर प्रदेश हुकूमत में वज़ीर मूलचंद चौहान को जब ये बात पता चली तो उन्होंने कहा कि ये चौंकाने वाला है। उन्होंने दावा किया कि रवि की हर मुमकिन मदद की जाएगी।