Ranji Trophy Final: यश दुबे-शुभम शर्मा ने ठोका शतक, मुंबई के गेंदबाजों को धोया

फाइनल मुकाबले में मध्य प्रदेश के बल्लेबाजी को मुंबई के गेंदबाजों को तोड़कर रख दिया है। बेंगलुरु के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेले जा रहे इस मुकाबले में यश दुबे के बाद शुभम शर्मा ने भी शतक जड़ दिया है।

Ranji Trophy Final: यश दुबे-शुभम शर्मा ने ठोका शतक, मुंबई के गेंदबाजों को धोया
x

बेंगलुरु: रणजी ट्रॉफी का फाइनल मध्य प्रदेश और मुंबई के बीच खेला जा रहा है। फाइनल मुकाबले में मध्य प्रदेश के बल्लेबाजी को मुंबई के गेंदबाजों को तोड़कर रख दिया है। बेंगलुरु के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेले जा रहे इस मुकाबले में यश दुबे के बाद शुभम शर्मा ने भी  शतक जड़ दिया है। दोनों खिलाड़ियों के बीच 200 से अधिक रन की साझेदारी हो गई है। मध्यप्रदेश अब मुंबई से 110 रन पीछे हैं।


यश दुबे- शुभम शर्मा टिककर खेल रहे हैं और मुंबई की गेंजबाजी पर हावी नजर आ रहे हैं। इन दोनों ने मध्य प्रदेश को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया है। बता दें कि मध्य प्रदेश की टीम 23 साल के बाद रणजी का फाइनल खेल रही है। 


शतक बनाने के बाद यश ने केएल राहुल के स्टाइल में जश्न मनाया। यश ने शतक के बाद हेलमेट खोकर जमीन पर रख दिया और दोनों कानों को उंगली से बंद कर ली। ऐसा टीम इंडिया के बल्लेबाज केएल राहुल करते हैं। खेल के दूसरे दिन मध्य प्रदेश के एक झटका लगा। ओपनर हिमांशू मंत्री 31 रन पर आउट हो गए। 







और पढ़िए - 19 बॉल में इस प्लेयर ने ठोक डाले 96 रन, 10 छक्कों के साथ जड़े 9 चौके







इस मुकाबले में मुंबई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए सरफराज खान के शतक के दम पर बोर्ड पर 374 रन लगाए थे। इस सीजन गजब की फॉर्म में बल्लेबाजी कर रहे इस खिलाड़ी ने चौथा शतक लगाते हुए 134 रनों की पारी खेली। 


मुंबई पर हार का खतरा मंडराने लगा है। दरअसल, रणजी ट्रॉफी का नियम है कि नॉक आउट स्टेज के मुकाबलों में 5 दिन के अंतराल में अगर दोनों इनिंग पूरी नहीं होती तो नतीजा पहली पारी के आधार पर लिया जाता है। अगर मध्य प्रदेश यहां से मुंबई पर बढ़त हासिल करने में कामयाब रहती है तो वह जीत की तरफ एक कदम बढ़ा लेगी।









और पढ़िए - खेल से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें






Click Here - News 24 APP अभी download करें

Next Story