मैं फिर से मुख्यमंत्री बनना चाहता हूं, पीएम बनने का इरादा नहीं: अखिलेश

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (21 जून): 2019 के लोकसभा चुनाव में भले ही अभी वक्त हो, लेकिन राजनैतिक गलियारों में इसकी सुगबुगाहट साफ तौर से देखी जा सकती है। सभी राजनैतिक दल 2019 की राजनीति के मद्देनजर सियासी रोटियां सेकने में लगे हुए हैं। इस सब के बीच उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम और समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने एक बड़ा बयान दिया है। आपको बता दें कि अखिलेश ने बुधवार को कहा कि वह चाहते हैं कि देश का अगला प्रधानमंत्री भी उत्तर प्रदेश से ही हो। उन्होंने कहा कि वह खुद एक बार फिर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनकर विकास कार्यो में तेजी लाना चाहते हैं।2019 में प्रधानमंत्री बनने के सवाल पर अखिलेश ने कहा, "मैं इतना बड़ा सपना नहीं देखता कि देश का प्रधानमंत्री बन जाऊं। मुझे देश का प्रधानमंत्री नहीं बनना है, मुझे तो सिर्फ एक बार फिर उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री ही बनना है और प्रदेश के विकास कार्यो को आगे बढ़ाना है।आपको बता दें कि लखनऊ में एक समाचार चैनल से बातचीत में उन्होंने आगे कहा, "अभी तक तो यही होता आया है कि यूपी से ही कोई प्रधानमंत्री बनता आया है, हम यही चाहते हैं कि कोई नया प्रधानमंत्री बने और यूपी से ही बने। देश की पसंद हमारी पसंद बन जाएगी और देश को क्या मिला देश इसका आकलन करेगा।लेकिन यहां पर एक और वाकया घटा जो कि बेहद ही दिलचस्प है। आपको बता दें कि राहुल गांधी का जिक्र किए जाने पर अखिलेश ने कहा, "सपना देखना बुरी बात नहीं है, लेकिन कांग्रेस को इसके लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ेगी। हम साथ हैं, लोकसभा चुनाव में भी साथ रहेंगे, कई और भी पार्टियां साथ आएंगी। वहीं अखिलेश ने बसपा के साथ गठबंधन को लेकर साफ करते हुए कहा कि समाजवादी पार्टी 2019 का लोकसभा चुनाव बसपा के साथ मिलकर लड़ेगी।