आरएलडी के टिकट पर चुनाव लड़ेंगी सपा की तबस्सुम हसन

नई दिल्ली (05 मई): सपा ने कैराना लोकसभा उप चुनाव को लेकर बड़ा गेम खेला है। कल जयंत चौधरी के साथ अखिलेश यादव की मुलाकात के बाद नया समीकरण बना है। समाजवादी पार्टी की तबस्सुम हसन कैराना से राष्ट्रीय लोकदल के सिंबल पर चुनाव लड़ेंगी। गोरखपुर में भी निषाद पार्टी के प्रत्याशी ने सपा के चुनाव चिन्ह पर चुनाव लड़ा था। उत्तर प्रदेश की कैराना लोकसभा सीट पर उपचुनाव 28 मई को होने वाला है।

कैराना लोकसभा उपचुनाव में समाजवादी पार्टी की तबस्सुम हसन राष्ट्रीय लोकदल की प्रत्याशी होंगी। समाजवादी पार्टी के इस कदम से अब शामली जिले की कैराना लोकसभा सीट पर होने वाला उपचुनाव काफी दिलचस्प होने जा रहा है। उपचुनाव में विपक्षी दलों ने गठबंधन के तहत साझा प्रत्याशी उतारा है। कैराना लोकसभा सीट को लेकर समाजवादी पार्टी ने अब रालोद के साथ एक समझौता किया है। रालोद उपाध्यक्ष जयंत चौधरी लखनऊ में कल समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव से मिलने पहुंचे थे।

कैराना से समाजवादी पार्टी के विधायक नाहिद हसन की मां तबस्सुम हसन को पार्टी ने राष्ट्रीय लोकदल के सिंबल पर मैदान में उतारने का फैसला किया है। समाजवादी पार्टी इस चुनाव में बसपा से नजदीकी का भी लाभ लेने के प्रयास में है। इस सीट पर स्वर्गीय मुनव्वर हसन की भी अपनी साख रही है। 2009 में पत्नी तबस्सुम हसन ने यहां से जीत हासिल की थी। अब एक बार फिर तबस्सुम हसन को समाजवादी पार्टी टिकट देने की तैयारी में थी। उनके बेटे नाहिद हसन शामली के कैराना से समाजवादी पार्टी से ही विधाायक हैं। सपा इस सीट पर दलित, मुस्लिम व पिछड़ों के साथ रणनीति बना रही है। इनके साथ ही क्षेत्र में राष्ट्रीय लोकदल की भी तगड़ी पैठ है।