यूपी उपचुनावों में सपा सरकार को लगा झटका

नई दिल्ली (16 फरवरी): यूपी में हुए उपचुनाव में सपा सरकार को करारा झटका लगा है। मुजफ्फरनगर, देवबंद और फैजाबाद की सीटें पहले सपा सरकार के पास थी लेकिन उपचुनावों के बाद उसे सिर्फ फैजाबाद में ही जीत हासिल हो सकी।

देवबंद की सीट जहां कांग्रेस पार्टी के खाते में गई है, वहीं मुजफ्फरनगर की सीट बीजेपी ने जीत ली है। फैजाबाद की बीकापुर सीट पर सपा का उम्मीदवार जीत गया है और लालू प्रसाद यादव की पार्टी आरजेडी का प्रत्याशी दूसरे स्थान पर रहे। इस सीट पर बीजेपी का उम्मीदवार चौथे स्थान पर रहा है।

उल्लेखनीय है कि पिछले कुछ सालों से मुजफ्फरनगर का नाम दंगों से जोड़ कर चर्चा में ज्यादा रहा। मुजफ्फरनगर सीट सपा विधायक चितरंजन स्वरूप के निधन के कारण रिक्त हुई थी। इसके अलावा देवबंद सीट सपा के राजेन्द्र सिंह राणा तथा बीकापुर सीट सपा के ही विधायक मित्रसेन यादव के निधन की वजह से खाली हुई थी। यूपी में अगले साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं, ऐसे में ये चुनाव समाजवादी पार्टी के लिए अहम माने जा रहे हैं। ये तीनों सीटें पहले समाजवादी पार्टी के पास ही थीं।

देश की 12 विधानसभा सीटों पर हुए थे उपचुनाव: शिवसेना पालघर विधानसभा सीट को बचाने में कामयाब रही है। इसके उम्मीदवार अमित घोडा ने कांग्रेस के उम्मीदवार राजेंद्र गावित को 18,948 वोटों से हराकर इस सीट पर अपना कब्जा बरकरार रखा है। घोडा को 67,129 वोट मिले हैं जबकि गावित को 48,181 वोट मिले। शिवसेना के तत्कालीन विधायक कृष्ण अर्जुन घोडा के निधन के कारण उपचुनाव जरूरी हो गए थे।

जीत का सिलसिला कायम रखते हुए सत्तारूढ़ तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) ने कांग्रेस से मेडक जिले की नारायणखेड़ विधानसभा सीट छीन ली। टीआरएस उम्मीदवार भूपाल रेड्डी ने 53,625 मतों के अंतर से इस सीट के लिए हुए उपचुनाव में जीत दर्ज की। कांग्रेस उम्मीदवार पी संजीव रेड्डी को महज 39,451 मत मिले जबकि तेदेपा के एम विजयपाल रेड्डी केवल 14,787 वोट जुटा सके। इस सीट को अब तक कांग्रेस का गढ़ माना जाता था।

कर्नाटक में विधानसभा उपचुनाव की मतगणना में भाजपा दो और कांग्रेस एक सीट पर आगे चल रही है। बिहार के हरलाखी में राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के उम्मीदवार की जीत हुई है और पंजाब के खडूर साहिब से अकाली दल उम्मीदवार को जीत मिली है। मध्य प्रदेश के मैहर से बीजेपी उम्मीदवार आगे चल रहे हैं।

सत्तारूढ़ माकपा ने त्रिपुरा के गोमती जिले में बीरगंज उपचुनाव में जीत दर्ज की। पार्टी प्रत्याशी परिमल देबनाथ ने भाजपा के अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी को 10,597 मतों के अंतर से शिकस्त दी। पीठासीन अधिकारी देबप्रिया वर्धन ने बताया कि देबनाथ को 20,355 मत मिले जबकि भाजपा के रंजीत दास को 9,758 मत हासिल हुए। कांग्रेस प्रत्याशी चंचल डे को केवल 1,231 मत मिले और उनकी जमानत जब्त हो गई।