30000 फुट की ऊंचाई पर धमाका, पायलट की सूझबूझ से बची सबकी जान

नई दिल्ली (19 अप्रैल): अमेरिका में जमीन से लगभग 30 हजार फुट की ऊंचाई पर उड़ रहे एक विमान के एक इंजन में अचानक धमाका हो गया, लेकिन फिर भी पायलट टेमी ने हिम्मत नहीं हारी और यात्रियों को सुरक्षित बचा लिया।

इसके बाद अमेरिकी महिला पायलट जिनकी हर तरफ चर्चा हो रही है। साउथवेस्ट के विमान 1380 ने न्यू यॉर्क से डलास के लिए उड़ान भरी थी जिसके बाद प्लेन में धमाका हो गया। धमाके के बाद विमान का एक हिस्सा कैसे पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया।

विस्फोट के बाद एक नुकीली चीज विमान से टकराई और विमान की खिड़की क्षतिग्रस्त हो गई। यात्रियों ने बताया कि उन लोगों ने क्षतिग्रस्त खिड़की से बाहर गिरी जा रही एक महिला को बचाया। हालांकि, सिर में चोट लग जाने कारण बाद में महिला की मौत हो गई। इन आपात परिस्थितियों में भी टेमी ने संयम से काम लिया और एयर ट्रैफिक कंट्रोलर को पूरी जानकारी दी। विमान की फिलाडेल्फिया में इमर्जेंसी लैंडिंग की गई। 

56 साल की पायलट टामी जो शल्ट्स की तत्परता और सूझबूझ ने दर्जनों यात्रियों की जान बचाई। उन्होंने इंजन फेल हो जाने के बावजूद दक्षिण-पश्चिम एयरलाइंस की फ्लाइट की सफलतापूर्वक लैंडिग कराने में सफलता हासिल की। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आपातकालीन लैंडिंग कराने के बाद उन्होंने यात्रियों को गले लगााय और उन्हें भरोसा दिलाया।

एफ-18 उड़ाने वाली पहली महिला और पूर्व लड़ाकू पायलट की इस बहादुरी भरे कार्य की खूब प्रशंसा हो रही है। बीच उड़ान के दौरान इंजन फेल होने पर पैदा हुए खतरे से भी लड़कर विमान को जमीन पर उतारने को लेकर लोग जमकर सराहना कर रहे हैं। विमान में सफर कर रहे अमांदा बर्मन ने सुरक्षित महसूस होने के बाद कहा-भगवान ने पायलट को देवदूत बनाकर हमारी रक्षा के लिए भेजा था। एक और यात्री अल्फ्रेड टुमिलिन्सन ने कहा कि उनके पास स्टील की जैसे हैं, सब लोग उनकी सराहना कर रहे थे।