फिर फिक्सिंग की फांस में फसा एक और क्रिकेटर, लगा दो साल का बैन

जोहांसबर्ग (22 दिसंबर): दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज अल्वेरो पीटरसन फिक्सिंग की फांस में फस गए हैं। दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट बोर्ड ने पीटरसन पर दो साल का बैन लग गया है। 2015-16 में घरेलू टी-20 क्रिकेट मैच के फिक्सिंग मामले में पीटरसन ने अपना गुनाह कबूलते हुए बोर्ड से माफी मांगी की थी। लेकिन क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका (CSA) ने उनके माफी देने से इनकार करते हुए उन पर दो साल का प्रतिबंध लगा दिया है।

पीटरसन साउथ अफ्रीका के छठे और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर साउथ अफ्रीका का प्रतिनिधित्व करने वाले कुल तीसरे खिलाड़ी हैं जिन्हें जारी जांच में प्रतिबंध झेलना पड़ा है। उनसे पहले गुलाम बोदी, थामी सोलीकिले, इथी मबहालाती, पुमी माटशिक्वे और जेम्स सेयमेस भी प्रतिबंध का सामना कर रहे हैं। साल 2014-15 में दक्षिण अफ्रीका के घरेलू टी 20 टूर्नामेंट में मैच फिक्स करने की कोशिश के लिए पूर्व इंटरनैशनल क्रिकेटर गुलाम बोदी को 20वर्ष के लिए प्रतिबंधित किया गया था।

एल्विरो पीटरसन ने साउथ अफ्रीका के लिए 36 टेस्ट मैच खेले हैं। जिसमें उन्होंने 34.88 की औसत से 2093 रन बनाए। उन्होंने 5 टेस्ट शतक लगाए और उनका सर्वोच्च स्कोर 182 था। पीटरसन ने भारत के खिलाफ कोलकाता में 2010 में अपने टेस्ट क्रिकेट करियर की शुरुआत की थी। पीटरसन ने 2015 में इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहा था। लेकिन वे इंग्लिश काउंटी लंकाशायर और साउथ अफ्रीका के घरेलू क्रिकेट में लायंस की तरफ से अभी भी खेल रहे थे।