अब होटलों की तरह अस्पतालों की भी होगी 'स्टार रेटिंग', मरीज खुद करेंगे फैसला

नई दिल्ली (20 अगस्त): अब होटलों की तरह अस्पतालों को भी स्टार रेटिंग मिलेगी। अगले महीने से एम्स, राम मनोहर लोहिया अस्पताल, पीजीआई चंडीगढ़ और NIMHANS के मरीज इनकी सर्विस क्वालिटी के आधार पर फीडबैक दे सकेंगे। इस फीडबैक के आधार पर ही अस्पतालों की ओवरऑल रेटिंग्स की जाएगी।

- 'फाइनैंशियल एक्सप्रेस' की रिपोर्ट के मुताबिक, स्वास्थ्य मंत्रालय आईटी बेस्ड पेशेंट फीडबैक सिस्टम शुरू करने जा रहा है।

- पेशेंट सैटिस्फैक्शन सिस्टम (PSS) को पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर 54 केंद्रीय अस्पतालों के अलावा राज्यों द्वारा संचालित अस्पतालों को कवर करेगा।

- जिनमें से 30 राजस्थान के, एक उत्तरपूर्व, गुजरात व तमिलनाडु के कई जिला अस्पतालों को भी शामिल किया जाएगा। जहां पहले से ही हॉस्पिटल मैनेजमेंट सिस्टम काम कर रहा है। 

- यह मरीजों के फीडबैक को रिकॉर्ड करने के लिए एक वेब पोर्टल, एसएमएस सर्विस और IVRS (इन्टेरैक्टिव वॉइस रिस्पॉन्स सिस्टम) के जरिए मल्टी-प्रॉन्ग्ड अप्रोच इस्तेमाल करेगा।

- इसे सार्वजनिक अस्पतालों में लागू किया जाएगा, इसके अलावा उन प्राइवेट अस्पतालों को भी, जिन्हें पैनल में शामिल किया जाएगा।