इंदिरा के फैसले से कभी जनता का नहीं हुआ नुकसान- सोनिया

नई दिल्ली(19 नवंबर): पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की 100वीं जयंती को मौके पर पूरे देश ने उन्हें आज श्रद्धांजलि अर्पित की। इंदिरा गांधी की समाधि शक्ति स्थल पर राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी समेत कई लोगों नें श्रद्धांजलि अर्पित की। इस मौके पर सोनिया ने कहा कि इंदिरा जी के जीवन के बारे में बताने के लिए उन्हें कई और जन्म लेने पड़ेंगे। 

इंदिरा गांधी की याद में जगह-जगह कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम में सोनिया गांधी ने इंदिरा गांधी के साथ बिताये पलों को याद किया। उन्होंने कहा कि बहुत कम लोगों को इंदिरा जी के साथ काम करने का मौका और इनमें से एक हमारे वर्तमान राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी हैं। सोनिया गांधी ने कहा कि उन्हें इंदिरा गांधी के साथ एक घर में एक छत के नीचे रहने का मौका मिला। जहां उन्होंने इंदिरा जी से ही राजनीति का पहला पाठ सीखा। इंदिरा उनके लिए मां और गुरु थीं।

सोनिया गांधी ने कहा कि इंदिरा गांधी ने कभी जनता के साथ छलावा नहीं किया और उनके फैसले से कभी जनता का नुकसान नहीं हुआ। इंदिरा गांधी ने अपनी नीतियों से देश को आर्थिक संकट से निकाला और हिम्मत का साथ युद्ध किया। जब विदेशी शक्तियों ने भारत को दवाने की कोशिश की तो उन्होंने उसका पुरजोर विरोध किया। भारत का उनका सपना दार्शनिक नहीं बल्कि हकीकत था और वो इसके लिए हर हिंदूस्तानी से बात किया करती थीं।

साथ ही उन्होंने कहा कि इंदिरा गांधी अपनी महानता के लिए उस वक्त ज्यादा याद की जाएंगी जब कुछ नेता महान बनने के लिए शॉर्टकट अपना रहे हैं और देश के चरित्र को कमजोर करने में जुटे हैं।