News

पैसे के लिए अपनी ही पिता का कातिल बना बेटा

लखनऊ (29 मई): उत्तर प्रदेश की सीतापुर पुलिस ने एक ऐसे सनसनीखेज़ हत्याकांड का खुलासा किया है। जिसने सभी के होश उड़ा दिए है। पुलिस ने एक ऐसे शतिर शख्स को गिरफ्तार किया है जिसने 50 लाख की पॉलिसी के लिए खुद के पिता की गोली मार कर हत्या कर दी थी।

यूपी के सीतापुर के थाना रामपुरकला के सट्टाल्लापुर गांव में उस समय सनसनी फैल गई। जब खबर आई की तीन मोटर सायकिल सवारों को बदमाशों ने गोली मार दी। जिसमें एक शख्स की मौके पर मौत हो गई जब्कि एक घायल है। वारदात की खबर मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल शख्स योगेश को अस्पताल पहुंचा। घायल योगेश ने पुलिस को बताया कि उसके पिता राम दुलारे की इलाके के ही 3 लोगों से रंजिश थी। 

उन्होंने ही इस हत्याकांड को अंजम दिया है। योगेश ने ये भी बताया कि वो अपने भाई और पिता के साथ दवाई लेकर लौट रहा था तभी इन लोगों ने उस पर गोलियां चलाईं और उनके पिता की जान चली गई। पुलिस ने बयान के मुताबिक तीनों लोगों को गिरफ्तार कर लिया। लेकिन जब जांच शुरू हुई तो पैरों तले से ज़मीन खिसक गई। योगेश ने खुद ही अपने पिता को गोली मारी थी, ताकि वो पिता के नाम 50 लाख की पॉलीसी की रकम हासिल कर सके।

हत्या को अंजाम देने के लिए योगेश ने पूरी प्लानिंग की और अपने इस शातिराना चाल में अपने छोटे भाई को भी शामिल किया। योगेश ने पहले पिता को गोली मारी और फिर खुद को भी घायल कर लियाष। जब पुलिस मौके पर पहुंची तो उन तीन लोगों का नाम ले लिया जिनसे उनके पिता की रंजिश चल रही थी, ताकि पुलिस को गुमराह कर सके। लेकिन उसकी चाल कामयाब नहीं हुई। 

तीन गिरफ्तार लोगों ने जब हत्या में शामिल होने से इनकार किया तो पुलिस ने योगेश के छोटे भाई पप्पू से कड़ी पूछ-ताछ की। पुलिस की पूछ-ताछ में पप्पू टूट गया। उसने पुलिस के सामने योगेश के सारे राज़ खोल दिए। पप्पू ने पुलिस को बताया की योगेश बेहद अमीर बनना चाहता था। वो आसमान में उड़ना चाहता था। इसके लिए उसने सबसे पहले पिता रामदुलारे के नाम 50 लाख की एक एल.आई.सी. बीमा पॉलिसी कराई...और फिर पिता को गोली मार दी ताकि उसको बीमा का पैसा मिल सके।

पुलिस ने बताया कि पिता की हत्या के बाद तुरंत उसको 6 लाख रुपया मिलना था। बाद हर साल 1 लाख 20 हज़ार की किश्त आनी थी। ये किश्त लगभग 16 साल तक थी। पुलिस का ये भी कहना है की जब इसकी पॉलीसी 17 साल की पूरी हो जाती तो योगेश को 12 लाख की एक किश्त और दूसरी 14 लाख की मिलती। योगेश ने इस खेल में अपने छोटे भाई पुप्पू को भी शामिल किया था। योगेश ने पुप्पू को एक मोटर सायकिल भी देना का वायदा किया. लेकिन पप्पू पुलिस का गवाह बन गया और अपने भाई योगेश का सारे पोल खोल दिए।

योगेश पुलिस की गिरफ्त में है। पुलिस योगेश से पूछ-ताछ कर रही है। लेकिन जिस तरह से पैसे के लिए एक बेट ने अपने पिता का कत्ल कर दिया वो बेहद हैरान करने वाला है।


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram .

Tags :

Top