Blog single photo

मतदान से 48 घंटे पहले सोशल मीडिया पर चुनाव प्रचार होगा बंद

लोकसभा चुनाव से पहले एक बड़ी खबर सामने आ रही है। दिग्गज सोशल मीडिया कंपनियां फेसबुक, ट्विटर और व्हाट्सएप मतदान से 48 घंटे पहले अपने-अपने प्लेटफार्म पर किसी भी तरह का चुनाव अभियान बंद कर देंगी। यह बात इन सोशल मीडिया प्लेटफार्म की तरफ से तैयार किए गए वालंटरी कोड ऑफ एथिक्स में दी गई है। इन दिग्गज कंपनियों ने बुधवार को यह कोड ऑफ एथिक्स भारतीय चुनाव आयोग के पास जमा करा दिया। यह पहली बार है, जब इंटरनेट आधारित कंपनियों ने ऑनलाइन अभियान के मानकों को स्वैच्छिक तौर पर स्वीकार किया है।

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (21 मार्च): लोकसभा चुनाव से पहले एक बड़ी खबर सामने आ रही है। दिग्गज सोशल मीडिया कंपनियां फेसबुक, ट्विटर और व्हाट्सएप मतदान से 48 घंटे पहले अपने-अपने प्लेटफार्म पर किसी भी तरह का चुनाव अभियान बंद कर देंगी। यह बात इन सोशल मीडिया प्लेटफार्म की तरफ से तैयार किए गए वालंटरी कोड ऑफ एथिक्स में दी गई है। इन दिग्गज कंपनियों ने बुधवार को यह कोड ऑफ एथिक्स भारतीय चुनाव आयोग के पास जमा करा दिया। यह पहली बार है, जब इंटरनेट आधारित कंपनियों ने ऑनलाइन अभियान के मानकों को स्वैच्छिक तौर पर स्वीकार किया है।

चुनाव आयोग ने एक बयान में कहा, ‘‘ इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन आफ इंडिया (आईएएमएआई) तथा फेसबुक, व्हाट्सएप, ट्विटर, गूगल, शेयर चैट तथा टिक टाक आदि समेत सोशल मीडिया कंपनियों के साथ कल की बैठक के बाद आचार संहिता तैयार की गई है... ये मंच सिन्हा समिति की सिफारिशों के तहत तीन घंटे के भीतर जन प्रतिनिधित्व कानून, 1951 की धारा 126 के तहत किसी भी नियम के उल्लंघन को लेकर कदम उठाएंगे।’’

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि संहिता तैयार करना एक अच्छी शुरूआत है।उन्होंने कहा कि संबंधित कंपनियों को आचार संहिता में जतायी गयी प्रतिबद्धता का अक्षरश: पालन करने की आवश्यकता है।आईएएमएआई सोशल मीडिया तथा आयोग के बीच संपर्क स्थापित करने का काम करेगा।

स्वैच्छिक आचार संहिता के तहत सोशल मीडिया कंपनियां नोडल अधिकारी की प्रचार सामग्री के बारे में दी गयी रिपोर्ट पर कानून के अनुसार कार्रवाई करेंगी। फेसबुक, ट्विटर, व्हाट्सएप जैसी दिग्गज कंपनियों के साथ ही बिगो और बाइटडांस जैसी कंपनियों ने भी इस कोड ऑफ एथिक्स पर हस्ताक्षर किए हैं।

Tags :

NEXT STORY
Top