कुछ तो लोग कहेंगे, लोगों का काम है कहना: स्मृति ईरानी

नई दिल्ली (6 जून): कैबिनेट में बड़े फेरबदल के बाद स्मृति ईरानी को एचआरडी मंत्रालय ने हटाकर कपड़ा मंत्रालय का कार्यभार सौंपा गया है। विभाग में फेरबदल के बाद लगाए जा रहे अनुमानों पर स्मृति ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि कुछ तो लोग कहेंगे, लोगों का काम है कहना।

केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने आज अपना कार्यभार संभाला। अपना नया मंत्रालय संभालने के बाद स्मृति ईरानी ने पीएम मोदी को धन्यवाद दिया। जब स्मृति इरानी से उन्हें यूपी में बीजेपी का चेहरा बनाए जाने के बाबत सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि कुछ तो लोग कहेंगे, लोगों का काम है कहना। स्मृति ईरानी ने मीडिया पर चुटकी लेते हुए कहा कि ऐसा संभवत: पहली बार होगा कि इतनी बड़ी संख्या में मीडिया के लोग कपड़ा मंत्रालय में आए हों। ये इस बात का संकेत है कि मैं चाहे किसी भी सेगमेंट में जाऊं आपका और मेरे साथ बरकरार रहेगा।

स्मृति ने ट्वीट किया कि उन्हें गर्व है कि नागरिकों से फीडबैक लेने और कई बार सलाह-मशविरा करने के बाद नेशनल एजुकेशन पॉलिसी 2016 जल्द ही जारी होने को है। स्मृति ने बताया कि स्वयं योजना ने छात्रों को ऑनलाइन 500 कोर्सों में से मनपसंद का चुनाव करने की सुविधा दी है। बीते 2 साल में एचआरडी मंत्रालय ने जो भी पहल की या फैसले लिए वे शिक्षा क्षेत्र की बेहतरी के लिए लिए हैं।

बता दें कि ये चर्चा है कि स्मृति ईरानी के लिए यह बड़ा झटका है। क्योंकि दो साल पहले लोकसभा चुनाव में हार के बावजूद स्मृति को शिक्षा मंत्रालय जैसा महत्वपूर्ण जिम्मा मिला था। हालांकि चर्चा यह भी बनी हुई है कि अपने तीखे तेवर और विवादों को लेकर लगातार सुर्खियों में रहना भी स्मृति ईरानी पर भारी पड़ गया हैं।