10वीं में पढ़ने वाले इस छात्र के हैं 6 बच्चे और 8 पोते-पोती

नई दिल्ली (16 जून): नेपाल में एक छात्र छह बच्चों का बाप और आठ बच्चों का दादा है। जी हां, 68 साल के दुर्गा कामी नेपाल के सबसे बुजुर्ग छात्रों में से एक हैं। जीवन के 68 साल बीत जाने के बाद भी दुर्गा ने पढ़ाई के करने के सपने को संजोए रखा है। वे हायर सेकेंडरी स्कूल में 10वीं के छात्र हैं।   कामी के छह बच्चे हैं। आठ बच्चों के दादा भी हैं। लेकिन अपने पोतों की उम्र के छात्रों के साथ स्कूल जाने और क्लास लेने वह बिलकुल भी झिझक महसूस नहीं करते हैं। दुर्गा फुल यूनिफॉर्म में स्कूल जाते हैं। अन्य बच्चों के तरह पूरा होमवर्क करते हैं। उनकी क्लास में 14 से 15 साल के बच्चे हैं। कामी के छह बच्चे हैं। आठ बच्चों के दादा भी हैं। लेकिन कोई उनके साथ नहीं रहता है। वो कहते हैं कि स्कूल जाकर सारे दुख दूर हो गए हैं। 

दुर्गा को पढ़ाने वाले टीचर कहते हैं कि अपने पिता की उम्र के व्यक्ति को पढ़ाना बेहद खास अनुभव है। दुर्गा कामी कहते हैं कि बचपन में घर की जिम्मेदारी और गरीबी ने पढ़ाई छुड़वा दी। इसकी कसक हमेशा मन में रही। एक दशक पहले पत्नी चल बसी। तब से अकेला महसूस कर रहा था। बच्चों को स्कूल जाते देख पढ़ने की इच्छा जाग उठी। फिर हायर सेकेंडरी स्कूल के हेड मास्टर से मिला और उन्होंने अनुमति दे दी। अब मैं मरते दम तक पढ़ता रहूंगा। मुझे देख लोग पढ़ने के लिए उम्र की बाधा तोड़ेंगे। उन्होंने अपने एक दोस्त सागर थापा से वादा किया है कि अगर वह 10वीं क्लास में पास हो जाते हैं तो अपनी दाढ़ी कटवा लेंगे।