पिता को 39 साल में तो बेटी ने 18 साल मे हासिल कर लिया था अर्जुन अवार्ड

नई दिल्ली (18 अगस्त): खेलों की तरह पीवी सिंधु पढ़ाई में भी अव्वल नंबर है। सिंधु ने बीकॉम फर्स्ट डिवीजन में पास किया है। शानदार खेल की वजह से सिंधु को महज 18 साल की उम्र में अर्जुन अवार्ड मिल गया था।  जबकि उनके पिता पीवी रमन्ना को 39 साल के उम्र में अर्जुन अवार्ड मिला था।

यह बहुत कम बार देखा गया है कि जब एक ही परिवार के दो सदस्यों को अलग-अलग खेल के लिए अर्जुन अवार्ड मिला हो। बैडमिंटन खेलने से पहले सिंधु डॉक्टर बनना चाहती थी, लेकिन जब उसने देखा कि डॉक्टर बनने के लिए बहुत ज्यादा पढ़ाई करनी पड़ती है तब बैडमिंटन रैकेट ही पकड़ लिया। सिंधु ने एक बार बताया था कि वह सबसे ज्यादा तेलुगू मूवी देखना पसंद करती हैं।