यूपी: ठगी करने वाले गिरोह का खुलासा, 45 हजार सिम के साथ 6 गिरफ्तार

नई दिल्ली ( 20 अप्रैल ): उत्तर प्रदेश के सीतापुर में सिमकार्ड के ज़रिये ठगी करने वाले एक ऐसे गिरोह का पुलिस ने खुलासा किया है जो विभिन्न मोबाइल कंपनियों के सिम कार्ड के ज़रिये लोगो के बिलों का भुगतान कर ग्राहक और मोबाइल कंपनीयों को चूना लगाते थे। लखनऊ एटीएस और सीतापुर की क्राइम ब्रांच टीम ने बुधवार रात शहर कोतवाली और संदना इलाकों में छापेमारी की। शहर कोतवाली इलाके से चार व संदना से एक आरोपी को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से 45 हजार से ज्यादा सिम का जखीरा बरामद किया है। साथ ही भारी संख्या में मोबाइल फोन, लैपटॉप, एक्टीवेशन फार्म, फर्जी आइडी, पासपोर्ट, फोटो व अन्य तमाम सामान भी बरामद हुए हैं। पकड़े गए लोगों द्वारा एक्टीवेटेड सिम पर मिलने वाले ऑफर के जरिये मोबाइल रिचार्ज व बिल भुगतान का गोरखधंधा चलाया जा रहा था।


लखनऊ एटीएस और सीतापुर क्राइम ब्रांच की टीम ने इस पूरे मामले का खुलासा किया है। पुलिस ने इस मामले में मोबाइल कंपनियों के कर्मचारियों की भूमिका को भी संदिग्ध मानते हुए अपनी तफ्तीश आगे बढ़ा दी है। एटीएस को यह गोपनीय सूचना मिली थी कि सीतापुर में मोबाइल फोन पर इंटरनेट के जरिये ठगी का कारोबार संचालित किया जा रहा है। इसी सूचना पर एटीएस ने सीतापुर की क्राइम ब्रांच की टीम के साथ मिलकर विभिन्न स्थानों पर छापेमारी की और करीब आधा दर्जा लोगो को गिरफ्तार कर उनके कब्ज़े से 47 हज़ार से ज्यादा सिमकार्डो की बरामदगी की। पुलिस अब इस मामले की भी गहराई से छानबीन करने में जुटी हुई है कि किस तरह फर्जी दस्तावेजों के ज़रिये इतनी बड़ी तादात में सिमकार्डो को हासिल किया गया और इसमें मोबाइल कंपनी के कर्मचारियों की क्या भूमिका रही है।