मुस्लिम मरीन के पैरेंंट्स के बाद अब सिख परिवार ने ट्रंप के खिलाफ खोला मोर्चा

नई दिल्ली (7 अगस्त): एक पाकिस्तानी मूल के अमेरिकी सैनिक के माता-पिता के अब एक एक सिख मरीन के परिजनों ने कहा है कि वे भी डॉनल्‍ड ट्रंप की टिप्पणियों से आहत हैं। 

- अफगानिस्तान में पांच साल पहले शहीद होने के बाद मरीन कॉरपोरल गुरप्रीत सिंह के शयनकक्ष को आज भी लाल, सफेद और नीले रंग से सजाया गया है और -

- उनकी वर्दी अलमारी में टंगी है जिस पर मेडल लगे हैं।

- उनके पिता निर्मल सिंह कैलिफॉर्निया के एंटीलोप में अपने घर में एक दीवार पर उनका पोस्टर लगाए रखते हैं और उसे अमेरिकी हीरो बुलाते हैं। 

- सिंह और उनके परिवार के सदस्यों ने पिछला पूरा हफ्ता एक अन्य शहीद सैनिक के प्रवासी माता-पिता से जुड़ी खबरों को देखते हुए बिताया।

- ये लोग  रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार ट्रंप की टिप्पणी से आक्रोशित हैं।

- निर्मल ने कहा कि हमें ऐसा लगता है कि ट्रंप शहीदों के साथ भी रजनीति कर रहे हैं। 

- निर्मल सिंह ने कहा, 'धर्म मायने नहीं रखता है। वे अपने देश को प्यार करते हैं।

- इसलिए वे चाहते हैं कि शहीदों को सम्मान मिले उनका किसी तरह की राजनीतिक उपयोग न हो।