अब डिंपल यादव ने गढी 'कसाब' की नई परिभाषा

सिद्धार्थनगर (25 फरवरी): विधानसभा चुनाव के मद्देनजर उत्तर प्रदेश में सियासी घमासान जोरों पर हैं। यूपी में विधानसभा चुनावों के प्रचार में इन दिनों कसाब के नाम पर घमासान जारी है। पहले अमित शाह ने कसाब का मतलब क से कांग्रेस, स से समाजवादी पार्टी और ब से बसपा बताया था। अब अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव ने कसाब का मतलब बताया है।

सिद्धार्थनगर में जनसभा को संबोधित करते हुए डिंपल यादव ने कसाब का मतलब बताते हुए कहा कि कसाब का मतलब क से कम्प्यूटर, स से स्मार्टफोन और ब से बहनों के लिए बहुत सारी योजनाएं।

रैली के संबोधित करते हुए डिंपल यादव ने पीएम मोदी पर भी जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी के मन की बात सुनते-सुनते तीन साल बीत गए। हम लोग मन की बात सुनते हैं और गैस के दाम बढ़ जाते हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा नेताओं की खिसियाहट बढ़ गई है। उन्होंने कहा कि बीजेपी वाले क से कसाब सिखाते हैं हम क से कम्प्यूटर सिखाते हैं।