कर्नाटक: सिद्धगंगा मठ के महंत की 111 साल की उम्र में निधन, कल होगा अंतिम संस्कार

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (21 जनवरी): लिंगायत समुदाय के धर्मगुरू और कर्नाटक के सिद्धगंगा मठ के महंत शिवकुमार स्वामी का निधन हो गया है। 111 साल के शिवकुमार स्वामी पिछले कुछ दिनों से बीमार थे। उनका अंतिम संस्कार 22 जनवरी को शाम 4.30 बजे किया जाएगा। कर्नाटक में तीन दिन के राजकीय शोक की घोषणा की गयी है। उनके निधन के बाद मठ में स्वामी जी के दर्शन के लिए भक्तों का तांता लगा हुआ है।

शिवकुमार स्वामी के मरने के बाद कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी सिद्धगंगा मठ पहुंचे। इसके अलावा बीएस यदुरप्पा और एमबी पाटिल और केजी जॉर्ज और साधना गोडवा मौजूद थे। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पिछले कुछ दिनों से बीमार चल रहे आध्यात्मिक गुरू श्री श्री श्री शिवकुमार स्वामीगालू के शीघ्र स्वस्थ होने की बृहस्पतिवार को कामना की थी।

आपको बता दें कि पिछले महीने चेन्नई के एक निजी अस्पताल में स्वामी जी के पित्ताशय और यकृत की बाईपास सर्जरी की गई थी। बाद में उनको बेंगलुरु लाया गया था। वहां से उन्हें तुमकुरु के सिद्धगंगा मठ के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। तबीयत बिगड़ने की वजह से उन्हें वेंटीलेटर पर रखा गया था। गौरतलब है कि शिवकुमार स्वामी लिंगायत समुदाय से आते हैं. कर्नाटक में सबसे अधिक दबदबे वाले लिंगायत समुदाय की संख्या 18 फीसदी है। इसलिए सिद्धगंगा मठ का दबदबा यहां की राजनीति में बहुत ज्यादा है। इस समुदाय का मुख्य मठ सिद्धगंगा बेंगलूरू से लगभग 80 किलोमीटर दूर तुमकुरु में है। इस मठ को बीजेपी समर्थक माना जाता है। राज्य भर में 400 से ज्यादा सिद्धगंगा मठ है।