Exclusive: शिवराज सरकार में 400 करोड़ का घोटाला, करोड़पति बने BPL धारक

महेश पांडे, भोपाल (12 मई): मध्यप्रदेश में गरीबी रेखा से नीचे के लोगों की लिस्ट में ऐसे नाम शामिल हैं जो लखपति हैं। जिनके पास आलीशान मकान हैं, लग्जरी कारें हैं। लेकिन सब्सिडी के लालच में ये गरीब बन बैठे हैं। ये जरूरतमंदों का हक मार रहे हैं। न्यूज़ 24 आज इस फर्जीवाड़े पर बड़ा खुलासा करने जा रहा है।


अजब एमपी में फर्जी गरीबों के ऐसे गजब कारनामे सामने आए हैं कि आप चौंक जाएंगे। गरीबी रेखा से नीचे रहनेवाले लोगों की सूची यानी बीपीएल लिस्ट में दर्ज ऐसे लोगों के नाम हैं, जिनके घर में कार है, पक्का मकान है, शानो-शौकत की तमाम सुविधाएं हैं, लेकिन ये उठा रहे हैं सरकारी सब्सिडी का फायदा।


1: नाम - महेंद्र सिंह, सरपंच, गांव- बकानिया, तहसील - उज्जैन

2: नाम - दिनेश मंडल महामंत्री, भारतीय जनता युवा मोर्चा बुरहानाबाद, खाचरौद

3: नाम - रमेश चम्पालाल, रेलवे कर्मचारी बुरहानाबाद, खाचरौद


हमें खबर मिली थी कि यहां के जो लोग विदेशों में रहते हैं, उनमें से कुछ लोगों के नाम भी बीपीएल लिस्ट में दर्ज हैं। हमने तफ्तीश शुरू की तो चौंकानेवाले खुलासे हुए।


- अब्बास अली विदेश में रहते हैं लेकिन उनके बीपीएल कोटे का अनाज आज तक आता है।

- बुरहानाबाद में देवीदास फकीरचंद और बिनजाराम दंपति की मौत हो चुकी है। लेकिन सरकारी रिकार्ड में आज तक उनका नाम बीपीएल कार्डधारक के बतौर दर्ज है।

- ताजपुर के रहने वाले अलीम उर्फ अल्लू मियां के पास कई बीघे पुश्तैनी जमीन है। लेकिन हैरान करनेवाली बात ये है कि अलीम मियां के बेटे असलम का नाम बीपीएल लिस्ट में दर्ज है।


वीडियो: