मध्य प्रदेश: मापदंडों का पालन नहीं करने वाले भोपाल के 63 प्राइवेट स्कूलों की मान्यता रद्द

नई दिल्ली ( 3 मई ): मध्य प्रदेश सरकार ने स्कूल मापदंडों का पालन नहीं करने वाले राजधानी भोपाल के 63 प्राइवेट स्कूलों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की है। सरकार ने भोपाल के 63 प्राइवेट स्कूलों मान्यता रद्द कर दी है। जिला शिक्षा अधिकारी ने यह आदेश जारी किए हैं।निःशुल्क एवं अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार अधिनियम-2009 अंतर्गत जिला भोपाल में संचालित अशासकीय शालाओं की नवीन मान्यता/नवीनीकरण हेतु आॅनलाईन आवेदन, आधारभूत जानकारी के साथ संबंधित शालाओं के द्वारा अपलोड किया गये थे। आवेदन में दर्शायी गई जानकारी का भौतिक सत्यापन एवं शाला का स्थल निरीक्षण किया गया तथा अभिलेखों का परीक्षण भी किया गया। निःशुल्क एवं अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार अधिनियम-2009 के अनुसार संचालित शाला में न्यूनतम शैक्षणिक स्टाफ एवं न्यूनतम प्रशिक्षित शैक्षणिक स्टाफ की पूर्ति होना नहीं पाया गया एवं मूलभूत आवश्यकताओं में पेयजल सुविधा, शौचालयों की पृथक-पृथक उपलब्धता एवं विक्लांग बच्चों के लिये उपयुक्त शौचालय तथा अग्निशमन यंत्र एवं बाधा रहित सुविधा की उपलब्ध का वास्तिविक रूप से सत्यापन होना नहीं पाया गया है।अतः इस संबंध में निःशुल्क एवं अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार अधिनियम-2009 के मानक एवं मापदण्ड की पूर्तिन होने के कारण जिला शिक्षा अधिकारी भोपाल द्वारा निम्नलिखित अशासकीय शालाओं की नवीन मान्यता/नवीनीकरण अमान्य किया गया है।