शिवपाल ने कहा- 2017 में अगर पार्टी जीती तो ये होंगे यूपी के सीएम

नई दिल्ली (17 सितंबर): समाजवादी पार्टी का झगड़ा आखिरकार सुलझ गया। नेताजी यानी मुलायम सिंह यादव का नाम लेकर सीएम अखिलेश और शिवपाल यादव। दोनों ने तलवार म्यान में रख ली। शिवपाल यादव से छीने गए सभी  विभाग अब उन्हें वापस मिल गए हैं।

सीएम ऑफिस की तरफ से ट्वीट कर इसका ऐलान किया गया। शुक्रवार को विवाद खत्म कराने के लिए पार्टी अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव खुलकर मैदान में उतरे। मुलायम का भरोसा सही साबित हुआ। आखिरकार अखिलेश यादव झुके और चाचा शिवपाल को बड़ी राहत दी। 

साथ ही मंत्री पद से हटाए गए गायत्री प्रजापति को भी वापस मंत्रिमंडल में शामिल किया जाएगा। रही बात एसपी के प्रदेश अध्यक्ष पद की..तो इससे हटाए जाने की कसक अखिलेश के मन में कायम है। उन्होंने साफ कर दिया है कि प्रदेश अध्यक्ष भले ही शिवपाल रहें। लेकिन 2017 के चुनाव के लिए पार्टी के टिकट बंटवारे में उनकी अहम भूमिका होगी। 

वहीं न्यूज 24 से एक्सक्लूसिव बातचीत में शिवपाल ने कहा कि अखिलेश को लेकर उनके मन में कोई खटास नहीं, 2017 में अगर पार्टी जीती तो मुख्यमंत्री अखिलेश ही होंगे।