शिवपाल यादव बनाएंगे समाजवादी सेक्‍युलर मोर्चा नाम से नई पार्टी, मुलायम सिंह होंगे अध्‍यक्ष

नई दिल्ली ( 6 मई ): उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के समय से समाजवादी परिवार में चल रहा घमासान रुकने का नाम नहीं ले रहा। मुलायम सिंह यादव के भाई शिवपाल यादव अभी भी नाराज हैं। सपा में हाशिए पर चल रहे शिवपाल यादव ने शुक्रवार को अलग पार्टी बनाने का ऐलान किया। उन्‍होंने समाजवादी सेक्‍युलर मोर्चा के गठन की घोषाणा की है। शिवपाल ने घोषणा की कि मुलायम सिंह यादव इसके अध्यक्ष होंगे।


इस मौके पर शिवपाल यादव ने कहा कि नेताजी के सम्‍मान की खातिर नई पार्टी का गठन किया जा रहा है। अभी दो रोज पहले उन्‍होंने इटावा में इसके संकेत भी दिए थे। हालांकि उस दौरान उन्‍होंने सपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अखिलेश यादव से कहा था कि वह इस पद को छोड़ दें और उनकी जगह मुलायम सिंह को राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष बनाया जाना चाहिए।


उल्‍लेखनीय है कि यूपी चुनावों के बाद से इटावा के जसवंतनगर से विधायक और सपा के पूर्व प्रदेश अध्‍यक्ष शिवपाल यादव लगातार अखिलेश और पार्टी के जनरल सेक्रेट्री रामगोपाल यादव पर निशाना साध रहे हैं।


अखिलेश यादव यूपी विधानसभा चुनावों के वक्त मुलायम सिंह को समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष पद से हटाकर खुद राष्ट्रीय अध्यक्ष बने थे। उन्होंने मीडिया से कहा था कि वह सिर्फ तीन महीने के लिए अध्यक्ष बने हैं और चुनाव के बाद वह नेताजी को राष्ट्रीय अध्यक्ष का पद लौटा देंग


बता दें कि हाल ही में शिवपाल यादव ने अखिलेश यादव को अल्टीमेटम देते हुए कहा था कि “या तो अखिलेश यादव पार्टी अध्यक्ष पद छोड़ें वरना पार्टी में टूट निश्चित है।


हाल ही में शिवपाल यादव ने समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव रामगोपाल यादव का नाम लिए बिना उनको ‘शकुनी’ बताया था। शिवपाल बोले, मैंने भले ही समाजवादी संविधान नहीं पढ़ा हो लेकिन इसके रचयिता को गीता पढ़ने की जरूरत है। उनका सीधा निशाना रामगोपाल यादव पर था।