सीएम बनने पर शिवसेना की योगी को सलाह


नई दिल्ली(19 मार्च): शिवसेना ने गोरखपुर सांसद योगी आदित्यनाथ और यूपी के होने वाले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को एक सलाह दे डाली है। शिवसेना के नेता संजय राउत ने कहा, 'मेरे पास इस पर टिप्पणी करने के लिए कुछ नहीं है क्योंकि नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली बीजेपी सरकार अपनी इच्छा के अनुसार किसी को भी उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री नियुक्त कर सकती है।'


क्या अपने विवादित बयानों की वजह से घिरे रहने वाले सांसद यूपी को संभाल पाएंगे? इस सवाल पर राउत ने कहा कि अच्छा होगा अगर आदित्यनाथ विवाद पैदा करने वाले बयानों से बचें क्योंकि इससे राज्य में अराजकता ही बढ़ेगी।


राउत ने कहा,'उनके विवादास्पद बयान अब काम नहीं करेंगे क्योंकि अब वह भारत के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बनने जा रहे हैं। अगर वह इस तरह की टिप्पणियां देंगे तो पूरे राज्य का माहौल खराब हो जाएगा। अब उन्हें विकास की बात करनी चाहिए।'


अयोध्या में राम मंदिर बनाने के वादे पर राउत ने कहा कि अब अगर योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद भी राम मंदिर नहीं बन पाया तो फिर वह कभी नहीं बन पाएगा।


शनिवार को बीजेपी ने गोरखपुर के सांसद योगी आदित्यनाथ को यूपी का सीएम नियुक्त किया। केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा को डेप्युटी सीएम घोषित किया गया। केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की उपस्थित में उत्तरप्रदेश में 19 मार्च को दोपहर 2.30 बजे शपथ ग्रहण समारोह आयोजित किया जाएगा।


गोरखपुर सीट से पांच बार सांसद रह चुके आदित्यनाथ, 26 वर्ष की उम्र में 12 वीं लोकसभा के सबसे कम उम्र के सदस्य थे। वर्तमान में, 12 सितंबर 2014 को महंत आवैद्यनाथ की मृत्यु के बाद, आदित्यनाथ गोरखपुर के गुरु गोरखनाथ मंदिर में महंत के रूप में सेवा दे रहे हैं।