बाल ठाकरे पर हेडली के खुलासे के बाद शिव सेना ने मुंबई पुलिस पर साधा निशाना

नई दिल्ली (24 मार्च): बाला साहेब ठाकरे पर हेडली के खुलासे पर  शिवसेना ने मुंबई पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों के प्रति अपनी नाराज़गी जाहिर की है।

शिवसेना ने सवाल उठाया है कि यदि लश्कर के आतंकवादी ने शिवसेना सुप्रीमो बाला साहेब ठाकरे पर हमले का प्रयास किया था तो पुलिस ने ये बात क्यों छुपाई। इससे पूर्व मुंबई धमाकों के सिलसिले में डेविड हेडली से वीडियो कांफ्रेंसिंग के ज़रिए वीडियो कान्फ्रेंसिंग के दौरान ये खुलासा हुआ था। जिरह में हेडली ने स्वीकार किया कि लश्कर ने शिवसेना सुप्रीमो बाला साहेब ठाकरे को मारने की साजिश रची थी। उसने कहा कि इससे ज्यादा विस्तार से और कुछ नहीं पता।

हेडली ने बताया कि जब इस सिलसिले में एक आतंकी की गिरफ्तारी हुई तो उसे पता चल चुका था। उसे ये भी पता चला कि वह पुलिस हिरासत से भागने में सफल रहा। लश्कर का ये आतंकी शिवसेना प्रमुख बाल ठाकरे को मारना चाहता था। अदालत में जुंदाल के वकील ने जब बार-बार ये सवाल किया कि आतंकी संगठन लश्कर से कितने रुपये मिले थे। तो गुस्साते हुए हेडली ने कहा कि उसे रुपये मिले नहीं है बल्कि उसने खुद लश्‍कर को 60 से 70 लाख रुपये दान में दिये थे।