'नाइक का मकसद हिन्दुत्वाद को पराजित कर संपूर्ण इस्लाम का निर्माण करना है'

नई दिल्ली (12 सितंबर): शिवसेना ने सामना के जरिये ज़ाकिर नाइक मामले पर महारष्ट्र सीएम को घेरा है। इसमें लिखा गया है कि कपिल शर्मा के ट्वीट पर सीएम जवाब देते है, कार्रवाई करने का आदेश देते है। कल को ज़ाकिर नाइक व ज़ाकिर नाइक की आवाज़ का भी जवाब दे सकते है। क्योंकि दुनिया के नक़्शे पर कई इस्लामिक देश नाइक जैसे लोगों का पालन पोषण करता है।

देश में सिर्फ हिंदुओं को लाचार और आपराधिक जीवन जीना पड़ रहा है। कोई भी उठकर हिन्दू संस्थाओं, संघटनो को अपाधि ठहराता देता है और हमारी सरकार ऐसी हिन्दू संघटनो को कुचल देती है।

ज़ाकिर नाइक पर शिवसेना का बड़ा ब्यान नाइक जैसे लोगों का मकसद हिन्दुत्वाद को पराजित करना है और संपूर्ण इस्लाम का निर्माण करना है। इसलिए आतंकवाद से लेकर धर्मपरिवर्तन सभी हथकंडो को अपनाते है। अगर इनपर कार्रवाई होतो तो ये पुरे इस्लाम से जोड़ देते है।

शिवसेना ने आतंकविरोधी दस्ते को दी चुनौती जिस तरह सनातन संस्था के दफ्तर में जाकर हंगामा होता है। वैसे ज़ाकिर नाइक के दफ्तर में नहीं किया जाता। नाइक अरब देश में बैठ कर हमें धमका रहा है। पुलिस और जांच एजेंसियां सनातन के दफ्तर में जाकर मर्दानगी दिखा रही है।

ज़ाकिर नाइक मामले पर शिवसेना ने शुरू की हिंदुत्व की राजनीति सनातन जैसी हिन्दू संस्थाओं पर तुरन्त कार्रवाई होती है, लेकिन ज़ाकिर नाइक जैसे लोगों पर नहीं होती। ज़ाकिर नाइक के समर्थन में मुस्लिम नेता और अभिनेता खड़े हो जाते हैं। हिन्दू संस्थाओं का कोई साथ नहीं देता, ये बेहद ही दुर्भागयपूर्ण है। नाइक ने कहा था मुझपर कार्रवाई देश के मुसलमानो पर कार्रवाई होगी।

शिवसेना ने कहा जांच में इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन देश विरोधी साबित हुई। फिर भी ज़ाकिर नाइक खुदको लोकतंत्र, समता, शान्ति और स्वतंत्रवादी बताता है। नाइक को बच्चों के मागदर्शन के लिए नहीं बल्कि धर्म परिवर्तन के लिए विदेश फंडिंग होती है। हमारी जांच एजेंसियां आज तक आँख पर पट्टी बांधे हुई थीं। बांग्लादेश हमले में नाइक का नाम न आता तो नाइक के धंधे पर कोई रोक टोक नहीं होती।