शिवसेना का बीजेपी पर निशाना- चाय के बदले शहीद हो गए 7 जवान

मुंबई (5 जनवरी): पठानकोट हमले को लेकर सरकार की सहयोगी शिवसेना ने सरकार पर बड़ा हमला बोला है। सामना में लेख के जरिए शिवसेना ने मोदी सरकार की विदेश नीति की न सिर्फ आलोचना की है बल्कि, हमले को लेकर सरकार के अंधेरे में होने का आरोप लगाया है।

शिवसेना ने सामना में लिखा है कि सिर्फ 6-7 आतंकियों ने हमारे खिलाफ युद्ध का ऐलान किया है। जिस बड़ी फौज का ढोल हम बजाते रहते हैं उस ढ़ोल को फोड़ने वाला ये मामला है। सीमा ही नहीं देश की आतंरिक सुरक्षा भी धाराशाई हो गई है। यह इस बात का सबूत है।

प्रधानमंत्री के लाहौर दौरे पर सवाल उठाते हुए शिवसेना ने कहा, 'चाय के बदले में पठानकोट में 7 जवान शहीद हो गए। यह वीर क्यों शहीद हुए? देश के सामने सवाल है। यह शहादत क्यों हुई? जवान शहीद हो रहे है लेकिन देश लड़ रहा है क्या? जवाब दो।'

यह भी लिखा है कि विपत्ति के समय सरकार के विरोध में बोलना ठीक नहीं है। टीका-टिप्पणी नहीं करते हुए सरकारी कार्रवाई का समर्थन करो क्योंकि यह देश की सुरक्षा का मामला है। लेकिन सुरक्षा का मामला होने के बाद भी क्या सरकार गंभीर है? सिर्फ 6-7 आतंकियों ने फौज को चुनौती दी है। सात जवान शहीद हुए हैं, 50 घायल हैं, इस हिसाब से पता चलता है कि सिर्फ 6 सनकी आतंकियों ने हिंदुस्तान की इज्जत तार-तार कर दी। रक्षामंत्री और प्रधानमंत्री वगैरह इससे सबक लें।