शीला होंगी UP में कांग्रेस की CM उम्मीदवार

नई दिल्ली(14 जुलाई): राज बब्‍बर को यूपी कांग्रेस चीफ बनाने के बाद पार्टी ने आज सीएम कैंडिडेट भी अनाउंसमेंट कर दिया। गुलाम नबी आजाद  ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर शीला दीक्षित के नाम की घोषणा की।

कहा जा रहा है कि प्रदेश के 11 फीसदी ब्राह्मणों को लुभाने के लि‍ए शीला दीक्षि‍त परफेक्‍ट चेहरा हैं।

गुलाम नबी ने क्या कहा प्रेस कॉन्फ्रेंस में...

- आरपीएन सिंह यूपी कांग्रेस के उपाध्यक्ष होंगे।

- बीजेपी अगर दागी उम्मीदवार हटाएगी तो हम भी अपना उम्मीदवार हटा लेंगे

- सीएम बनने के लिए चुनाव लड़ना जरूरी नहीं

- शीला दीक्षित को सीएम पद का उम्मीदवार घोषित किया।

शीला का यूपी से है पुराना नाता

- बता दें, शीला दीक्षित पॉलिटिक्‍स में बड़ा नाम हैं और यूपी में उनकी राजनीतिक जमीन है।

- उनकी ससुराल यूपी के उन्‍नाव जि‍ले में है। इसका लाभ उन्‍हें मि‍ल सकता है।

- वह 1984 से लेकर 1989 तक यूपी के कन्‍नौज सीट से सांसद भी रही हैं। इस दौरान वो केंद्र सरकार में मंत्री भी रहीं।

- पार्टी का चेहरा बनने से पार्टी ब्राह्मण वोटों को अपनी तरफ कर सकती है।

- 1998 में कांग्रेस ने उन्हें पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट से उम्मीदवार बनाया और चुनाव हारने के बाद उन्हें प्रदेश कांग्रेस की बागडोर सौंप दी गई।

- 1998 के विधानसभा चुनाव से शीला दीक्षित ने जीत का जो सिलसिला शुरू किया, वह 2008 तक जारी रहा।

- 2013 में आम आदमी पार्टी (AAP) की आंधी में कांग्रेस का यह कि‍ला ढह गया।

- 2013 में चुनाव हारने के बाद पार्टी ने उन्‍हें केरल का गवर्नर बना दि‍या था।

- 2014 में बीजेपी की सरकार केंंद्र में बनने के बाद शीला ने इस्‍तीफा दे दि‍या था।