शिया वक्फ बोर्ड ने SC में दी अर्जी, अयोध्या में बने राम मंदिर, लखनऊ में मस्जिद

नई दिल्ली ( 20 नवंबर ):  अयोध्या मसले पर शिया वक्फ बोर्ड ने रामजन्मभूमि विवाद के समझौते का मसौदा सुप्रीम कोर्ट में दाखिल कर दिया है। मसौदे के मुताबिक, अयोध्या में विवादित जगह पर राम मंदिर बनाए जाने की बात है और पुराने लखनऊ के पास एक मस्जिद बनाने का प्रस्ताव है, ताकि हिंदू और मुसलमानों के बीच विवाद हमेशा के लिए खत्म हो सके। 

शिया वक्फ बोर्ड ने अयोध्या के विवादित मामले का फॉर्म्युला 18 नवम्बर को सुप्रीम कोर्ट में जमा करा दिया है। 

अर्जी दाखिल किया है इसमें कहा गया है  - कहा सुन्नी वक्फ बोर्ड का दावा गलत। तोड़ी गई इमारत शिया मस्ज़िद थी। - हम देश के अमन चैन को ज़्यादा अहम मानते हैं। - अयोध्या में विवादों में रही पूरी ज़मीन हिंदुओं को सौंपना चाहते हैं। - इसके बदले अयोध्या में किसी मस्ज़िद का निर्माण भी नहीं करना चाहते। - हमने यूपी सरकार को लखनऊ के हुसैनाबाद में 1 एकड़ ज़मीन के लिए आवेदन दिया है। - वहां की मस्जिद को बाबर या मीर बाकी जैसे विवादित लोगों का नाम नहीं दिया  जाएगा। - इस फॉर्मूले पर महंत नृत्य गोपाल दास, महंत नरेंद्र गिरी रामविलास वेदांती,  सुरेश दास, धर्म दास जैसे सभी हिन्दू पक्षकार सहमत हैं।  - समझौता पत्र की कॉपी भी कोर्ट में जमा करवाई। इसमें इन सभी हिन्दू पक्षकारों  के हस्ताक्षर हैं।