शाहरुख़ की बहुत बड़ी फैन थीं शीला दीक्षित, कई बार देखी DDLJ

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली(20 जुलाई): दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और दिल्ली की तीन बार की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का शनिवार की शाम को 3:55 मिनट पर दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। वो 81 साल की थीं।  शीला दीक्षित को पढ़ने के अलावा फ़िल्में देखने का भी बहुत शौक था। इस बात का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि उन्होंने 'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे', कई बार देखी थीं। उनकी बेटी लतिका दीक्षित सईद ने बताया कि वो शाहरूख खान की बहुत बड़ी फैन थीं। शाहरूख का अभिनय उन्हें बेहद पसंद था। लतिका ने बताया, उन्होंने 'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे', इतनी बार देखी थी कि हम लोग परेशान हो गए थे।

शीला को फिल्में देखना काफी पसंद था। पहले वो भारतीय सुपर स्‍टर दिलीप कुमार और राजेश खन्ना की बड़ी फैन थीं। लोक संगीत के क्षेत्र में उनकी खास दिलचस्पी थी. शायद ही कोई दिन ऐसा बीतता था, जब वो बिना संगीत सुने बिस्तर पर जाती थीं। लतिका ने बताया कि एक महिला के तौर पर वो अंदर से बेहद मजबूत थीं।

शीला ने अपनी किताब में इस बात का जिक्र किया है कि उनके पति विनोद ने डीटीसी की बस में ही उन्हें शादी के लिए प्रपोज किया था. जब वो फाइनल ईयर का एग्जाम देने वाले थे तब एक दिन पहले 10 नंबर की बस में चांदनी चौक के पास विनोद ने शीला को बताया था कि वो अपनी मां को बताने जा रहे हैं कि उन्होंने लड़की चुन ली है, जिससे वो शादी करेंगे। शीला ने तब विनोद से कहा था कि क्या तुमने उस लड़की से दिल की बात पूछी है? तब विनोद ने कहा था कि नहीं, लेकिन वो लड़की बस में मेरी सीट के आगे बैठी है।

वहीं शीला दीक्षित ने राजनीतिक जीवन में मुख्यमंत्री रहते हुए दिल्ली को एक नई पहचान दी। फ्लाईओवर से लेकर मेट्रो, दिल्ली की हरियाली, स्वास्थ्य और शिक्षा ऐसी कई पहल शीला दीक्षित ने की जिसको आज भी वो गर्व से गिनाती है। लेकिन शीला दीक्षित के दामन पर कॉमनवेल्थ गेम में हुए भ्रष्टाचार के आरोपों का दाग भी लगा, लेकिन ये शीला दीक्षित का व्यक्तित्व ही था जो वो हर आरोपों के सामने बहादुरी से खड़ी रही। वह 2014 में केरल की राज्यपाल भी रहीं। एक दौर ऐसा भी आया जब अपने तमाम उपलब्धियों के बावजूद शीला दीक्षित अन्ना आंदोलन और केजरीवाल के भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना नहीं कर पाई और सत्ता गंवा बैठी।