यशवंत सिन्हा के समर्थन में उतरे शत्रुघ्न, कहा- उनके सुझावों को नहीं ठुकराना चाहिए

नई दिल्ली (28 सितंबर): मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों पर अब भीतर से ही हमला शुरू हो गया है। अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में वित्त मंत्री रहे बीजेपी के वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा ने कहा कि अर्थव्यवस्था की जो हालत है, उसमें चुप रहना देश के लिए खतरनाक होगा। उन्होंने कहा कि अरुण जेटली लोगों को क़रीब से गरीबी दिखाने पर तुले हैं। बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा एक बार फिर पार्टी लाइन से अलग ट्वीट किया है और यशवंत सिन्हा के समर्थन में उतर आए हैं।

शत्रुघ्न सिन्हा ने लिखा कि यशवंत सिन्हा एक सच्चे नेता, जांचे-परखे बुद्धिमान शख़्स हैं, जिन्होंने ख़ुद को सबसे बेहतरीन और सफलतम वित्त मंत्री के तौर पर उन्होंने लिखा कि यशवंत सिन्हा सफल वित्तमंत्री रहे हैं उनके सुझावों को ऐसे ही नहीं ठुकरा देना चाहिए। 

शत्रुघ्न सिन्हा ने लिखा कि यशवंत सिन्हा ने भारतीय अर्थव्यवस्था को आइना दिखाया है, उनके सुझावों को ठुकराना एक बचपना ही होगा। यशवंत सिन्हा और अरुण शौरी दोनों ही अनुभवी नेता हैं। दोनों किसी भी प्रकार की मंशा नहीं रखते हैं न ही मंत्री बनना चाहते हैं। उन्होंने लिखा कि जो भी यशवंत सिन्हा ने कहा है कि वह पार्टी और देश के हित में है।

शत्रुघ्न सिन्हा ने लिखा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बार-बार दोहराया है कि पार्टी से बड़ा देश होता है जो लोग यशवंत सिन्हा का विरोध कर रहे हैं वो विरोध कर सकते हैं लेकिन उनके द्वारा उठाए गए मुद्दों पर सवाल नहीं उठा सकते हैं। मैं उम्मीद करुंगा कि इन मुद्दों पर जल्द ही कोई ठोस कदम उठाए जाएंगे।

आपको बता दें कि पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने एक अंग्रेजी अखबार में लेख लिखा है जिसमें उन्होंने नोटबंदी के फैसले पर भी सरकार को आड़े हाथों लिया, उन्होंने कहा कि नोटबंदी ने गिरती जीडीपी में आग में तेल डालने की तरह काम किया। यशवंत सिन्हा ने तंज कसते हुए कहा कि पीएम मोदी कहते हैं कि उन्होंने गरीबी को काफी करीबी से देखा है। ऐसा लगता है कि उनके वित्तमंत्री इस तरह का काम कर रहे हैं कि वह सभी भारतीयों को गरीबी काफी पास से दिखाएं।