VIDEO: थरूर के बयान पर बीजेपी ने राहुल गांधी से की माफी की मांग, कहा- हिंदुओं को बदनाम करने का काम कर रही कांग्रेस

न्यूज 24 ब्यूरो, मुंबई (12 जुलाई): कांग्रेस नेता शशि थरूर के उस बयान पर सियासी घमासान तेज हो गया है जिसमें उन्होंने कहा कि है कि अगर 2019 में भी बीजेपी जीतती है तो 2019 में भारत  'हिंदू पाकिस्तान' बन जाएगा। पूर्व केंद्रीय मंत्री के इस बयान पर बीजेपी ने पलटवार किया है। बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने शशि थरूर के इस बयान पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मांफी की मांग की है।  संबित पात्रा ने कहा कि 'शशि थरूर ने जो कुछ भी कहा है, उसके लिए राहुल गांधी को माफी मांगनी चाहिए। पाकिस्तान के निर्माण के लिए कांग्रेस जिम्मेदार थी और एक बार फिर वह भारत को नीचा दिखाने और देश के हिंदुओं को बदनाम करने का काम कर रही है।'

संबित पात्रा ने ट्विटर पर भी कांग्रेस पर हमला बोला। पात्रा ने ट्वीट किया कि कांग्रेस भारत को नीचा दिखाने और हिंदुओं को बदनाम करने का कोई मौका नहीं खोती है। पात्रा ने लिखा, 'थरूर कहते हैं कि अगर बीजेपी 2019 में फिर सत्ता में आती है तो भारत हिंदू-पाकिस्तान बन जाएगा! बेशर्म कांग्रेस भारत को नीचा दिखाने और हिंदुओं को बदनाम करने का कोई भी मौका नहीं गंवाती है। 'हिंदू आतंकवादियों' से लेकर 'हिंदू-पाकिस्तान' तक...कांग्रेस की पाक को खुश करने वाली नीतियों का कोई जवाब नहीं है!'

आपको बता दें कि शशि थरूर ने कहा कि अगर बीजेपी 2019 में भी सत्ता में आने में सफल होती है तो भारत  'हिंदू पाकिस्तान' बन जाएगा। उन्होंने कहा कि अगर साल 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में बीजेपी जीती, तो हिंदुस्तान का संविधान खतरे में पड़ जाएगा। भारत हिंदू पाकिस्तान बन जाएगा। साथ शशि थरूर ने कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में बीजेपी की जीत से लोकतांत्रिक मूल्य खतरे में पड़ जाएंगे।


शशि थरूर ने आगे कहा कि बीजेपी नया संविधान लिखेगी जो भारत को पाकिस्तान जैसे मुल्क में बदलने का रास्ता साफ करेगा, जहां अल्पसंख्यकों के अधिकारों का कोई सम्मान नहीं होगा। साथ ही उन्होंने कहा कि 'अगर वे (बीजेपी) दोबारा लोकसभा चुनाव जीतते हैं तो हमारा लोकतांत्रिक संविधान खत्म हो जाएगा क्योंकि उनके पास भारतीय संविधान की धज्जियां उड़ाने और एक नया संविधान लिखने वाले सारे तत्व हैं।' 

उन्होंने कहा कि 'उनका लिखा नया संविधान हिंदू राष्ट्र के सिद्धांतों पर आधारित होगा जो अल्पसंख्यकों के समानता के अधिकार को खत्म कर देगा और देश को हिंदू पाकिस्तान बना देगा। महात्मा गांधी, नेहरू, सरदार पटेल, मौलाना आजाद और स्वतंत्रता संग्राम के महान सेनानियों ने ऐसे मुल्क के लिए लड़ाई नहीं लड़ी थी।'

ज्यादा जानकारी के लिए देखिए न्यूज 24 की ये रिपोर्ट...