पठानकोट हमला: शरीफ ने दिए तेज गति से काम करने के निर्देश

नई दिल्‍ली (7 जनवरी): पठानकोट एयरफोर्स एयरबेस पर हुए आतंकी हमले को लेकर पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने एक हाई लेवल मीटिंग बुलाई, जिसमें उन्‍होंने भारत द्वारा दिए गए सुरागों पर तेज गति से काम करने का निर्देश दिया।

पाक प्रधानमंत्री के कार्यालय की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि बैठक के दौरान राष्‍ट्रीय और क्षेत्रीय सुरक्षा से जुडे़ मुद्दों पर चर्चा की गई। नवाज शरीफ की ओर से बुलाई गई इस बैठक में वित्त मंत्री इशाक डार, गृह मंत्री निसार अली खान, विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अजीज, राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार पूर्व लेफ्ट‍िनेंट जनरल नासिर खान जांजुआ, विदेश सचिन एजाज अहमद चौधरी, खुफिया ब्‍यूरो के प्रमुख आफताब सुल्‍तान और अन्‍य अधिकारी शामिल थे।

इस बैठक में पठानकोट हमले और भारत की तरफ से पाकिस्‍तान को सौंपे गए सबूतों पर भी चर्चा की गई। इसी के साथ नवाज शरीफ ने अधिकारियों से इस मामले में तेज गति से काम करने का निर्देश भी दिया। हालांकि चर्चा यह भी है कि पहले की तरह पाकिस्‍तान के एक अधिकारी ने यह भी कहा कि भारत ने जो जानकारी सांझा की है, वह पर्याप्‍त नहीं है। भारत ने हमें सिर्फ फोन नंबर दिए हैं, इसके आधार पर आरोपी आसानी से छूट सकते हैं। इसलिए हम और ज्‍यादा जानकारी के लिए कह सकते हैं।

आपको बता दें कि भारत ने हमले को लेकर पाकिस्‍तान सरकार को तीन हैंडलर अशफाक अहमद, हाफिज अब्दुल शकूर, कासिम जान और इनके आका मसूज अजहर के खिलाफ सबूत दिए है। भारत इनपर सख्त कार्रवाई चाहता है। भारत ने पाकिस्तान को ट्रांसक्रिप्ट और मरकज की तस्वीरें मुहैया कराई है जहां हमले की प्लानिंग की गई थी।