Blog single photo

पवार ने मोदी की हत्या की साजिश वाले पत्र पर उठाए सवाल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या की साजिश वाले पत्र पर नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के अध्यक्ष शरद पवार ने सवाल खड़े किए हैं। शरद पवार का कहना है कि एक रिटायर्ड सीआईडी अधिकारी ने उन्हें बताया है कि पत्र में ऐसा कुछ है नहीं और इसका इस्तेमाल सिर्फ सहानुभूति लेने के लिए किया जा रहा है।

न्यूज24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 11 जून ): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या की साजिश वाले पत्र पर नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के अध्यक्ष शरद पवार ने सवाल खड़े किए हैं। शरद पवार का कहना है कि एक रिटायर्ड सीआईडी अधिकारी ने उन्हें बताया है कि पत्र में ऐसा कुछ है नहीं और इसका इस्तेमाल सिर्फ सहानुभूति लेने के लिए किया जा रहा है। साथ ही उन्होंने गिरफ्तारी के मामले पर कहा कि सत्ता का दुरुपयोग किया जा रहा है।इस बारे में शरद पवार ने रविवार को कहा, 'वे कहते हैं कि एक धमकाने वाला पत्र मिला है। मैंने एक रिटायर्ड पुलिस अधिकारी से बात की जोकि सीआईडी के लिए काम कर चुके हैं। उन्होंने मुझे बताया कि पत्र में ऐसा कुछ है ही नहीं। पत्र का उपयोग लोगों की सहानुभूति लेने के लिए किया जा रहा है।'उन्होंने आगे कहा, 'जब एकसमान सोचवाले लोगों ने मिलकर एल्गार परिषद का आयोजन किया तो उन्हें नक्सली कहकर गिरफ्तार कर लिया गया। सब जानते हैं कि भीमा-कोरगांव में हिंसा किसने की, लेकिन जिनका इससे कोई संबंध नहीं है, वे गिरफ्तार हो गए। यह सिर्फ सत्ता का दुरुपयोग है बस।'गौरतलब है कि भीमा-कोरेगांव में हिंसा भड़काने की साजिश के आरोप में पांच लोग गिरफ्तार किए गए। पुलिस का दावा है कि इन आरोपियों के पास से एक लेटर बरामद हुआ, जिसमें पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की ही तरह वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ही हत्या किए जाने की योजना पर बात की गई है।बता दें कि पुलिस ने बुधवार को रोना जैकब विल्सन, सुधीर ढावले, सुरेंद्र गाडलिंग सहित पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया था। विल्सन को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया था, ढावले को मुंबई से, गाडलिंग, शोमा सेन और महेश राउत को नागपुर से गिरफ्तार किया गया था। पुलिस का कहना है कि यह पत्र विल्सन के दिल्ली के मुनिरका स्थित फ्लैट से बरामद किया गया है।

Tags :

NEXT STORY
Top