गुजरात में शहरों की सड़कों पर शंकरसिंह वाघेला के पोस्टर

भूपेंद्र, अहमदाबाद (25 मार्च): आगामी गुजरात विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र गुजरात में राजनितिक पार्टियों की

गतिविधियां भी तेज हो गई है। एक तरफ सभी प्रमुख दलों में बैठकों के दौर चल रहे हैं, वही खेमेबाजी ने भी अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया है।


गुजरात में पिछले कई सालों से सत्ता से दूर कांग्रेस पार्टी में हर चुनावो की तरह इस बार भी अंदरूनी कलह उभर कर सामने आने लगा है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष भरत सिंह सोलकी के साथ वरिष्ठ नेता अर्जुन मोढवाडिया, शक्तिसिंह गोहिल और विपक्ष नेता शंकर सिंह वाघेला भले ही बैठकों में एक मंच पर दिखाई दे, लेकिन आपसी गुटबाजी किसी से छुपी नहीं है।


पहले शंकरसिंह वाघेला को कांग्रेस मुख़्यमंत्री का चेहरा बनाकर चुनाव में उतरने की अटकलें इतनी तेज हुई की खुद वाघेला को मच पर से घोषणा करनी पड़ी कि वो मुख्यमंत्री रेस में नहीं है। अब एक बार फिर वाघेला के पोस्टर गुजरात की गलियों में उन्हें फ्रीहैंड देनें की मांग कर रहे है।


पिछले दो दिनों से अहमदाबाद सहित अन्य शहरों में लगे बैनरों में कांग्रेस हाई कमांड से अनुरोध किया गया है कि पंजाब में अमरिंदर सिंह की तरह यहां शंकर सिंह वाघेला को फ्रीहैंड देकर उनके नेतृत्व में कांग्रेस चुनाव के मैदान में उतरे।