आज से राशि बदल रहा शनि, इन राशि वालों पर दिखायेगा अपना असर !

नई दिल्ली (26 जनवरी): 26 जनवरी के दिन शन‌ि देव दूसरी राशि में जाकर बैठ रहेहै। ऐसा माना जा रहा है कि वे सबसे पहले धनु राशि में प्रवेश करेंगे। उसके बाद सिलसिला शरू होगा अन्य राशियों में प्रवेश का इसमें कुछ राशियां प्रमुख होंगी। जैसे- धनु, मकर राश‌ि में साढ़ेसाती का आरंभ होगी और वृष एवं कन्या राश‌ि के जातक ढ़ैय्या के दौर से गुजरेंगे। ज्योतिष की मानें, तो शन‌ि जब अशुभ प्रभाव देते हैं, तब एक के बाद एक परेशानी आती रहती है और व्यक्ति को दीमक की तरह खोकला करने लगती है। 

शन‌ि की साढ़ेसाती और ढैय्या से परेशान व्यक्ति की चप्पल अथवा जूते अचानक से टूट जाते हैं या खो जाते हैं। तामस‌‌िक चीजों की तरफ झुकाव बढ़ने लगता है जैसे मांस-मद‌िरा के सेवन की चाह बढ़ने लग जाती है। जो लोग इन चीजों को पसंद नहीं करते, वो भी इस ओर आकर्षित होने लगते हैं।

जब घर-परिवार पर शनि भारी होने लगते हैं तो घर का कोई ह‌िस्सा टूट कर ग‌िर जाता है अथवा दीवारों में दरारें आने लगती हैं। घर में चोरी हो जाती है या चीजें गुम हो जाती हैं।

कारोबार में घाटा और व्यवसाय में आचानक से धन हानि होने लगती है। पैरों के रोग या हड्ड‌ियों से संबंधित बीमारियां घेरे रहती हैं। इसके अलावा बनते हुए काम बिगड़ जाना, हर काम में नुकसान पहुंचना, जीवन के हर क्षेत्र में असफलता मिलना या अनिष्ट होना।

 शनि की साढ़ेसाती व ढैया लगना, यह तभी फलीभूत होते हैं जब शनि की महादशा या अंतर्दशा चल रही हो अथवा जब शनि कुण्डली में खराब भावों का सूचक हो। अगर यह अशुभ नहीं है या दशा नहीं चल रही हो तो शनि व्यक्ति को हानि नहीं देता है। शनि का कार्य मात्र अनुचित व पाप कर्म का फल अपनी दशा व गोचर के दौरान देना है।

(न्यूज24 किसी भी दावे की पुष्टि नहीं करता है)