शैलजा मर्डर केस: दिल्ली पुलिस ने मेरठ के पास से चाकू किया बरामद !

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (28 जून): शैलजा मर्डर केस में दिल्ली पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। सूत्रों से मिल रही खबरों के मुताबिक दिल्ली पुलिस ने मेरठ से उस चाकू को बरामद कर लिया है जिससे शैलजा की हत्या को अंजाम दिया गया। साथ ही पुलिस ने वहां से कुछ और सुबूत भी इकट्ठा किया है। बताया जा रहा है कि आज सुबह 4 बजे दिल्ली पुलिस सबूत खंगालने मेजर निखिल हांडा को अपने साथ मेरठ ले गई और 4-5 घंटे तक वहां जांच की। पुलिस की टीम दिल्ली को देहरादून को जोड़ने वाले एन एच 58 पर मेरठ स्थित टोल प्लाजा पर पहुंची और छानबीन की। बताया जा रहा है कि शैलजा की हत्या के बाद मेजर निखिल हांडा मेरठ पहुंचा था और बकायदा टोल प्लाजा से गुजरा था। हालांकि कुछ देर बाद ही मेजर हांडा वापिस मेरठ शहर में आ गया था। दिल्ली पुलिस मेजर हांडा के साथ उस मेरठ सैन्य क्षेत्र स्थित ऑफिसर मेस पर पहुंची जहां वो क्वाटर में आकर वारदात के बाद छिपा था।आपको बता दें कि शैलजा की हत्या 24 जून को दिल्ली में हुई थी। मेजर निखिल हांडा ने शैलजा की गला रेत कर हत्या कर दी थी। जिसके बाद उनके पति मेजर अमित ने निखिल पर शक जताया था। पुलिस द्वारा निखिल की तलाश शुरू करने के बाद निखिल को मेरठ से गिरफ्तार गिया गया था।मेजर हांडा दिल्ली के साकेत का रहने वाला है। उसके पिता नेवी में अफसर हैं. इस वक्त निखिल की तैनाती नागालैंड के दीमापुर में है। 2 महीने पहले तक मेजर अमित द्विवेदी और उनकी पत्नी शैलजा द्विवेदी भी दीमापुर में थे। मेजर अमित और मेजर निखिल दोनों अच्छे दोस्त थे। पुलिस सूत्रों के मुताबिक वहीं निखिल और शैलजा की दोस्ती हुई थी। शैलजा 2017 में मिसिज़ इंडिया अर्थ फाइनलिस्ट भी रह चुकी हैं। उन्हें मॉडलिंग का भी शौक था। एमटेक करने के बाद वह एक यूनिवर्सिर्टी में प्रोफेसर भी रहीं हैं और एक एनजीओ से भी जुड़ी रही हैं।